ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
झारखंड
संवेदनशील होने पर महिलाओं से जुड़े अपराध में आएगी कमी : महुआ माजी
By Deshwani | Publish Date: 13/2/2017 4:18:40 PM
संवेदनशील होने पर महिलाओं से जुड़े अपराध में आएगी कमी : महुआ माजी

हजारीबाग,  (हि.स.)। संवेदनशीलता के साथ काम करने पर महिलाओं पर होने वाले अपराध कम किए जा सकते हैं । मानव तस्करी, कन्या भ्रूण हत्या, डायन प्रताड़ना, बलात्कार, घरेलू हिंसा, दहेज प्रताड़ना जैसी कई समस्याएं आए दिन सामने आती हैं। ऐसे मामलों में संवेदनशीलता के साथ काम किए जाने की जरूरत है । सोमवार को यह बातें महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष डॉ महुआ माजी ने कहीं। वह महिलाओं पर होने वाले अपराध के अनुसंधान एवं इनमें कमी लाने के उद्देश्य को लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग और डीपीआर एंड डी के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित अंतर राज्यीय सेमिनार में बोल रही थीं।

उन्होंने कहा कि महिलाओं को प्रशिक्षण से जोड़कर तथा उन्हें आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाकर उनके खिलाफ होने वाले अपराध कम किये जा सकते हैं। उन्होंने समस्याओं से निबटने और जरूरतमंदों के साथ ईमानदारी और जिम्मेदारी के साथ कार्य करने पर जोर दिया। झारखंड पुलिस एकेडमी में आयोजित तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में झारखंड एवं छत्तीसगढ़ की महिला पुलिस पदाधिकारी भाग ले रहीं हैं । कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए डा महुआ मांजी ने कहा कि उन्होंने पुलिस पदाधिकारियों से आग्रह किया कि वे कई मामलों में लड़कियों को आगाह करें ताकि सोशल साइट से गुमराह न हों और अपराधी प्रवृत्ति के युवाओं का शिकार न बनें । एकेडमी के डीएसपी शशि प्रकाश ने बताया कि महिला पुलिस पदाधिकारियों का यह प्रशिक्षण कार्यक्रम 15 फरवरी तक चलेगा ।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS