ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
हजारीबाग
बारिश में भी प्रशिक्षु पदाधिकारियों की परेड
By Deshwani | Publish Date: 12/8/2017 4:17:21 PM
बारिश में भी प्रशिक्षु पदाधिकारियों की परेड

हजारीबाग, (हि.स.)। हजारीबाग स्थित झारखंड पुलिस एकेडमी मैदान में शनिवार को नव प्रशिक्षित 70 डीएसपी, प्रोबेशनरी आफिसर और जेल सुप्रीटेन्डेन्ट का भव्य पासिंग आउट परेड आयोजित हुआ। मूसलाधार बारिश में नव प्रशिक्षित पदाधिकारियों का जोश देखते बन रहा था। मूसलाधार बारिश में भी इन अधिकारियों ने भव्य परेड का प्रदर्शन किया, जिसकी सराहना राज्य की मुख्य सचिव राजबाला वर्मा एवं पुलिस महानिदेशक डीके पाण्डेय ने भी की। मुख्य सचिव ने भव्य परेड का निरीक्षण किया। 
दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य की कानून व्यवस्था बनाए रखने, अपराध नियंत्रण एवं जनता की सेवा के लिए पुलिस अधिकारियों की जरुरत होती है। उन्होंने ईमानदारी और बहादुरी के साथ काम करते हुए राज्य को तेजी से विकास की दिशा में ले जाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि देश और राज्य की बेहतर अर्थव्यवस्था व आर्थिक प्रगति के लिए अच्छी कानून व्यवस्था जरूरी है। इस दिशा में आप सभी से बेहतर कार्य की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद, उग्रवाद, साइबर अपराध, महिलाओं की सुरक्षा एवं अपराध नियंत्रण आज के समय की प्रमुख चुनौती है। इससे मजबूत, प्रशिक्षित और आधुनिक पुलिस ही निबट सकती है। इस दिशा में सरकार सक्रिय है। 
उन्होंने सरकार द्वारा पर्याप्त मानव बल उपलब्ध कराए जाने की जानकारी दी। कहा कि 7500 पुलिस को नियुक्ति पत्र प्रदान किया जा रहा है । उन्होंने कहा कि पुलिस के सशक्तिकरण और आधुनिकीकरण के लिए पर्याप्त राशि की व्यवस्था की गई है। नव प्रशिक्षुओं से मुख्य सचिव ने कानून के संरक्षण करने की दिशा में कार्य करने का आह्वान किया।उन्होंने प्रशिक्षु पदाधिकारियों को भव्य परेड के लिए बधाई दी। डीजीपी ने अधिकारियों से कहा कि वे सत्य के साथ जनता की सेवा के लिए समर्पित रहें। जनता के मालिक बनने की कोशिश नहीं करें । उन्होंने कहा कि पूरी निष्ठा और ईमानदारी से कार्य करेंगें तो झारखंड नक्सल वाद से मुक्त होगा। 
स्वागत भाषण एकेडमी के निदेशक सह आईजी देव बिहारी शर्मा ने किया। धन्यवाद ज्ञापन आईजी प्रिया दुबे ने किया। कार्यक्रम में एडीजी पीआर के नायडू, एडीजी आधुनिकीकरण अनिल पालटा, कारा महानिरीक्षक प्रशांत कुमार, डीआईजी भीमसेन टुटी,डीसीरविशंकर शुक्ला, एसपी अनूप बिरथरे आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम के दौरान प्रशिक्षण में बेहतर करने वाले प्रोबेशनरी आफिसर मदन कुमार पटेल, जेल सुप्रिटेन्डेन्ट अजय कुमार प्रजापति, डीएसपी नितीन खंडेलवाल, जेल सुप्रिटेन्डेन्ट जितेन्द्र कुमार , डीएसपी नेहा बाला एवं सुमित प्रसाद को मुख्य सचिव और डीजीपी ने सम्मानित किया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS