ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी अभियंत्रण महाविद्यालय में प्राध्यपकों पर हमला व तोड़फोड़, कॉलेज छात्रों के विरूद्ध एफआईआर, कॉलेज व होस्टल में अगले आदेश तक छुट्टीमोतिहारी के छतौनी में स्पोर्स्टस क्लब मैदान से आर्म्स के साथ 4 गिरफ्तार, एसपी ने कहा-अपराध के लिए जुट थे हथियारों के सौदागरकेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने नागालैंड में मोन मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखीराष्ट्रपति ने गुरु रविदास जयंती की पूर्व संध्या पर देशवासियों को शुभकामनाएं दींनई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में खेलों को एक गौरवपूर्ण स्थान दिया गया है : प्रधानमंत्रीसीतामढ़ी के मेजरगंज में शहीद हुए सब इंस्पेक्टर दिनेश राम का मोतिहारी के बरनावाघाट पर राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कारकोई भी सरकार किसानों को नुकसान पहुंचाने वाले कानून बनाने की हिमाकत नहीं कर सकती- श्री तोमरपुद्दुचेरी में प्रधानमंत्री ने कई विकास परियोजनाओं की शुरूआत की
बिहार
हाजीपुर मंडल कारा में सोना लूट कांड मामले में बंद मनीष सिंह कि अपराधियों ने गोली मारकर कर दी हत्या
By Deshwani | Publish Date: 4/1/2020 11:17:01 AM
हाजीपुर मंडल कारा में सोना लूट कांड मामले में बंद मनीष सिंह कि अपराधियों ने गोली मारकर कर दी हत्या

पटना/हाजीपुर अपराधियों ने शुक्रवार को हाजीपुर मंडल कारा में सोना लूटकांड मामले में बंद मनीष सिंह उर्फ मनीष तेलिया की गोली मारकर हत्या कर दी। मृत मनीष राजापाकड़ थाने के तेलिया गांव का निवासी था। उसकी हत्या के बाद जेल में अफरा-तफरी मच गयी। इस दौरान बंदियों के दो गुटों के बीच हुई झड़प में लगभग आधा दर्जन बंदी जख्मी हो गये। हंगामा शांत कराने के लिए जेल प्रशासन को पगली घंटी बजानी पड़ी और बल प्रयोग करना पड़ा। 

 
 
घटना की सूचना पर जिले के तमाम वरीय पदाधिकारी बड़ी संख्या में पुलिस जवानों के साथ हाजीपुर जेल पहुंचे। जेल आइजी मिथिलेश मिश्रा, डीएम उदिता सिंह आदि भी वहां पहुंचे।  जेल के अंदर व बाहर सर्च अभियान चलाया गया।  सर्च अभियान के दौरान पुलिस ने घटना में इस्तेमाल में लायी गयी पिस्टल को बरामद कर लिया।  साथ ही गोली मारने के आरोपित राजा बाबू को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में जेल में सोना लूटकांड मामले में ही बंद अन्नू सिंह को भी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है। 
 
पुलिस सूत्रों के अनुसार घटना का कारण जयपुर समेत कई जगहों से लूटे गये सोने के बंटवारे का विवाद बताया जा रहा है। मारा गया मनीष तेलिया कुख्यात सोना लुटेरा गिरोह के सरगना राघोपुर निवासी मनीष सिंह का खास गुर्गा था। 16 मार्च, 2019 को कुख्यात मनीष सिंह को उसके गिरोह के तीन गुर्गों के साथ एसटीएफ ने महनार थाने की हसनपुर दक्षिणी पंचायत के बहलोलपुर दियारे में मार गिराया था. उसके पास से दो एके-47, एक राइफल समेत कई हथियार भी बरामद किये गये थे। मनीष सिंह कभी कुख्यात सोना लुटेरा सुबोध सिंह का दाहिना हाथ था।
 
 
घटना की सूचना पर जेल पहुंची डीएम उदिता सिंह ने मीडिया को बताया कि आपसी रंजिश में मनीष तेलिया की गोली मारकर हत्या कर दी गयी है। 
 
आरोपित राजा बाबू को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है। जेल में बंद अन्नू सिंह को भी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है।  सुरक्षा में चूक की वजह से हथियार जेल के अंदर पहुंचा। चूक किस स्तर पर हुई इसकी जांच की जा रही है। जांच में जो भी पदाधिकारी दोषी पाये जायेंगे, उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी।
 
लूट के सोने के बंटवारे को लेकर चल रही थी आपस में रंजिश
 
जेल प्रशासन को बजानी पड़ी पगली घंटी, आपसी झड़प में आधा दर्जन बंदी जख्मी
 
राजापाकर थाने के तेलिया गांव का रहने वाला था मनीष
 
जेल आइजी, डीएम समेत तमाम वरीय पदाधिकारी मौके पर पहुंचे 
 
23 मई, 2019 को भी कोर्ट कैंपस में पेशी के दौरान मनीष तेलिया पर हुई थी गोलीबारी
 
मनीष सिंह गिरोह का गुर्गा था तेिलया
 
मनीष तेलिया कुख्यात सोना लुटेरा राघोपुर निवासी मनीष सिंह गिरोह का गुर्गा था। डेढ़ वर्ष पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था। उसे स्पेशल सेल में रखा गया था। तबीयत खराब होने पर उसे जेल वार्ड में शिफ्ट किया गया था, जहां शुक्रवार की दोपहर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गयी। उसे पांच गोलियां मारी गयीं। मौके से पुलिस ने तीन खोखे बरामद किये हैं। 23 मई, 2019 को भी हाजीपुर कोर्ट कैंपस में पेशी के दौरान मनीष पर गोलीबारी की गयी थी। उस वक्त वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया था।
 
जेल आइजी ने माना, जेल सुरक्षा में हुई चूक 
 
हत्या की सूचना पर जेल आइजी मिथिलेश मिश्रा हाजीपुर मंडल कारा पहुंचे। उन्होंने घटनास्थल व जेल कैंपस का काफी देर तक निरीक्षण किया। 
 
 
उन्होंने माना कि जेल सुरक्षा में चूक से घटना हुई है। जेल में हथियार का आना और गोलीबारी से स्पष्ट है कि बड़े स्तर पर लापरवाही हुई है। उन्होंने जांच का आदेश दिया है। साथ ही कहा है कि मामले में जो भी दोषी पाये जायेंगे, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जायेगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS