ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
झारखंड
हत्या के आरोपी को उम्रकैद
By Deshwani | Publish Date: 20/2/2017 5:00:41 PM
हत्या के आरोपी को उम्रकैद

 

गुमला, (हि.स.)। प्रधान जिला व सत्र न्यायाधीश अवनी रंजन ने सोमवार को चर्चित प्राचार्य हत्याकांड के आरोपी राकेश उरांव उर्फ कृष्णा उरांव को उम्रकैद और 50 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनायी है। जुर्माने की राशि नहीं देने पर उसे छह माह अतिरिक्त सश्रम कारावास की सजा भुगतनी होगी। राकेश उरांव गुमला थाना के हुरहुरिया गांव का रहने वाला है। गौरतलब है कि 14 अक्टूबर 2015 को राकेश उरांव ने कार्तिक उरांव महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. शशि भूषण प्रसाद की दवली से मारकर हत्या कर दी थी। उस समय प्राचार्य अन्य शिक्षकों के साथ विभागीय कार्यों का निपटारा कर रहे थे। उसी समय छात्र पहुंचा और दवली से उनके गर्दन पर वार कर हत्या कर दी। घटना के बाद छात्र कुछ देर तक कॉलेज परिसर में ही घुमता रहा। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर हत्या में प्रयुक्त दवली को जब्त कर लिया। प्राचार्य हत्याकांड को लेकर कई दिनों तक गुमला में आंदोलन का सिलसिला जारी रहा। घटना के चश्मदीद गवाह प्रो. जितबाहन बड़ाइक समेत कुल 15 लोगों ने अदालत के समक्ष अपनी गवाही दीं। उल्लेखनीय है कि आरोपी राकेश उरांव ने गुमला मंडलकारा से ही बीए की परीक्षा दी। वह अब कानून की पढ़ाई करना चाहता है। 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS