ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोजमोतिहारी के झखिया में पुलिस ने घेराबंदी कर की कार्रवाई, शशि सहनी गिरफ्तार, 125 कार्टन अंग्रेजी शराब जब्तभोजपुरी सेंशेसन अक्षरा सिंह का नया गाना ‘कोरा में आजा छोरा’ रिलीज के साथ हुआ वायरल
झारखंड
गिरिडीह कोयला खदान धंसने से पांच जिन्दा दफन
By Deshwani | Publish Date: 27/5/2017 1:41:16 PM
गिरिडीह कोयला खदान धंसने से पांच जिन्दा दफन

गिरिडीह, (हि.स.)(अपडेट)। भारतीय कोकीगं कोल ली. की गिरिडीह स्थित सीसीएल इकाई की बंद पड़ी कोयला खदान कबरीबाद में खनन करने के क्रम में चाल धंसने से पांच मजदूर जिंदा जमींदोज हो गये। घटना शुक्रवार रात तीन बजे की है। बताया गया कि गिरिडीह इलाके में सक्रिय कोयला तस्करों की देखरेख में मुफस्सील थाना क्षेत्र के सिमरियाघोड़ा गांव के 50 से 60 लोग खदान से कोयला निकालने में जुटे थे। जिससे कुछ खदान में घुसे थे कुछ उपर थे इनमें से भीतर घुसे मो जाहिद, मो कुरबान, मो इनामुल ,मो शमीम और मो सोनू सभी की उम्र लगभग 25 से 35 के आसपास है। 

तभी अचानक खदान की चाह धंसने से कोहराम मच गया, जिसमें पांच दब गये। घटना के बाद शनिवार सुबह मु. थाना पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से रेस्क्यू कर पांचों के शवों को खादान से बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए सदर आपताल भेज दिया। बताया गया कि खदान को सीसीएल ने वर्षों पहले बंद कर दिया था। बावजूद अवैध रूप से खनन चल रहा था। पहले भी इस प्रकार के कई हादसे हुए हैं लेकिन पुलिस के भय से परिजन चुप रहने में ही अपना भला मानते रहे हैं।
 
 
 
 
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS