ब्रेकिंग न्यूज़
भारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगेभारत की राष्ट्रपति, मॉरीशस में; राष्ट्रपति रूपुन और प्रधानमंत्री जुगनाथ से मुलाकात कीकोयला सेक्टर में 2030 तक नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता को 9 गीगावॉट से अधिक तक बढ़ाने का लक्ष्य तय कियाझारखंड को आज तीसरी वंदे भारत ट्रेन की मिली सौगातदेश की संस्कृति का प्रसार करने वाले सोशल मीडिया कंटेंट क्रिएटर को प्रधामंत्री ने संर्जक पुरस्कार से सम्मानित किया
बिहार
आठ माह पूर्व प्लांट जिंदा बम आतंकी उमर की निशानदेही पर शौचालय से बरामद
By Deshwani | Publish Date: 15/9/2018 3:09:35 PM
आठ माह पूर्व प्लांट जिंदा बम आतंकी उमर की निशानदेही पर शौचालय से बरामद

बोधगया। विगत जनवरी महीने की 19 तारीख को बोधगया में कई जगह बम प्लांट करने की घटना की जांच के सिलसिले में यहां पहुंची एनआइए की एक टीम को आश्चर्य का तब ठिकाना नहीं रहा, जब शनिवार को यहां आठ महीने पहले प्लांट किये गये एक जिंदा बम से उसका सामना हुआ। यह एक आइइडी बम बताया गया है, जिसे निष्क्रिय करने के लिए बम निरोधक दस्ते को बोधगया बुलाया गया है। अधिकारियों-कर्मचारियों के हाथ-पांव फूलने लगे हैं। दरअसल, शनिवार को ही एनआइए की एक टीम बोधगया में बम रखे जाने की घटना की जांच के तहत एक डेमो (व्यावहारिक प्रदर्शन) के लिए ऊपरोक्त मामले में पकड़े गये उमर नामक एक आतंकी को साथ लेकर यहां पहुंची थी। डेमो के दौरान ही उमर की निशानदेही पर बम बरामद हुआ। 
 
यह दिखाते हुए अतिसंवेदनशील कालचक्र मैदान और कब्रिस्तान के बीच स्थित एक पुरुष शौचालय तक पहुंचा। उसके कहने-बताने पर शौचालय को खोला गया। शौचालय खुलते ही मौके पर मौजूद जांच अधिकारी स्तब्ध हो गये। बंद पड़े इस शौचालय में एक जिंदा बम पिछले आठ महीने से ज्यों-का-त्यों पड़ा था। आनन-फानन में बम को वहां से हटाया गया। उसे निष्क्रिय करने के लिए बम निरोधक दस्ते को भी बुलाया गया है। उधर, जिंदा बम बरामद होने से परेशान एनआइए के अधिकारी पूरे मामले की और व्यापक पड़ताल में जुट गये हैं। पता चला है कि अब तक जांच जिस दिशा में आगे बढ़ी है, उसकी भी समीक्षा हो रही है। 
 
उल्लेखनीय है कि इससे पहले इसी मामले में कौसर, साहिल और आदिल नामक आतंकवादियों को भी बोधगया लाकर पुलिस पूछताछ कर चुकी है। डेमो भी ले चुकी है। इस बीच, बोधगया लाये गये उमर नामक आतंकी से डेमो और मौखिक पूछताछ में एनआइए के अधिकारी अधिक से अधिक तथ्य तलाशने में जुटे हुए हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS