ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी अभियंत्रण महाविद्यालय में प्राध्यपकों पर हमला व तोड़फोड़, कॉलेज छात्रों के विरूद्ध एफआईआर, कॉलेज व होस्टल में अगले आदेश तक छुट्टीमोतिहारी के छतौनी में स्पोर्स्टस क्लब मैदान से आर्म्स के साथ 4 गिरफ्तार, एसपी ने कहा-अपराध के लिए जुट थे हथियारों के सौदागरकेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने नागालैंड में मोन मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखीराष्ट्रपति ने गुरु रविदास जयंती की पूर्व संध्या पर देशवासियों को शुभकामनाएं दींनई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में खेलों को एक गौरवपूर्ण स्थान दिया गया है : प्रधानमंत्रीसीतामढ़ी के मेजरगंज में शहीद हुए सब इंस्पेक्टर दिनेश राम का मोतिहारी के बरनावाघाट पर राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कारकोई भी सरकार किसानों को नुकसान पहुंचाने वाले कानून बनाने की हिमाकत नहीं कर सकती- श्री तोमरपुद्दुचेरी में प्रधानमंत्री ने कई विकास परियोजनाओं की शुरूआत की
बिहार
आठ माह पूर्व प्लांट जिंदा बम आतंकी उमर की निशानदेही पर शौचालय से बरामद
By Deshwani | Publish Date: 15/9/2018 3:09:35 PM
आठ माह पूर्व प्लांट जिंदा बम आतंकी उमर की निशानदेही पर शौचालय से बरामद

बोधगया। विगत जनवरी महीने की 19 तारीख को बोधगया में कई जगह बम प्लांट करने की घटना की जांच के सिलसिले में यहां पहुंची एनआइए की एक टीम को आश्चर्य का तब ठिकाना नहीं रहा, जब शनिवार को यहां आठ महीने पहले प्लांट किये गये एक जिंदा बम से उसका सामना हुआ। यह एक आइइडी बम बताया गया है, जिसे निष्क्रिय करने के लिए बम निरोधक दस्ते को बोधगया बुलाया गया है। अधिकारियों-कर्मचारियों के हाथ-पांव फूलने लगे हैं। दरअसल, शनिवार को ही एनआइए की एक टीम बोधगया में बम रखे जाने की घटना की जांच के तहत एक डेमो (व्यावहारिक प्रदर्शन) के लिए ऊपरोक्त मामले में पकड़े गये उमर नामक एक आतंकी को साथ लेकर यहां पहुंची थी। डेमो के दौरान ही उमर की निशानदेही पर बम बरामद हुआ। 
 
यह दिखाते हुए अतिसंवेदनशील कालचक्र मैदान और कब्रिस्तान के बीच स्थित एक पुरुष शौचालय तक पहुंचा। उसके कहने-बताने पर शौचालय को खोला गया। शौचालय खुलते ही मौके पर मौजूद जांच अधिकारी स्तब्ध हो गये। बंद पड़े इस शौचालय में एक जिंदा बम पिछले आठ महीने से ज्यों-का-त्यों पड़ा था। आनन-फानन में बम को वहां से हटाया गया। उसे निष्क्रिय करने के लिए बम निरोधक दस्ते को भी बुलाया गया है। उधर, जिंदा बम बरामद होने से परेशान एनआइए के अधिकारी पूरे मामले की और व्यापक पड़ताल में जुट गये हैं। पता चला है कि अब तक जांच जिस दिशा में आगे बढ़ी है, उसकी भी समीक्षा हो रही है। 
 
उल्लेखनीय है कि इससे पहले इसी मामले में कौसर, साहिल और आदिल नामक आतंकवादियों को भी बोधगया लाकर पुलिस पूछताछ कर चुकी है। डेमो भी ले चुकी है। इस बीच, बोधगया लाये गये उमर नामक आतंकी से डेमो और मौखिक पूछताछ में एनआइए के अधिकारी अधिक से अधिक तथ्य तलाशने में जुटे हुए हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS