ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार कैबिनेट का फैसला : लड़कियों को जन्म से लेकर स्नातक तक मिलेगा समुचित लाभ व सुरक्षाशत्रुघ्‍न सिन्‍हा का सवाल, 'सर, नोटबंदी के 18 माह बाद भी एटीएम में पैसा नहीं है, यह क्‍या हो रहा है'पंजाब ने हैदराबाद के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लियासुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस ने बुलाई विपक्ष की बैठकराज्यों के नाम मेनका का खत, रेप जैसी घटनाओं को रोकने के लिए दिए सुझावसीतामढ़ी रीगा चीनी मिल के मालिकों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंटप्रिंटिंग प्रेस में 24 घंटे चल रही नोटों की छपाई, कैश की समस्या होगी खत्मयूएस पहुंची कठुआ-उन्नाव रेप कांड मामला: भारतीय-अमरीकियों ने किया प्रदर्शन
गया
कालचक्र पूजा में बोधगया पहुंचे एक लाख श्रद्धालु
By Deshwani | Publish Date: 5/1/2017 2:31:21 PM
कालचक्र पूजा में बोधगया पहुंचे एक लाख श्रद्धालु

गया। बिहार में गया जिले के बोधगया में कालचक्र पूजा के चौथे दिन उत्सवी नजारा है। श्रद्धालुओं की भीड़ से पूरा शहर पटा है। 34‌वें कालचक्र पूजा को लेकर बिहार के बोधगया में इस समय एक लाख से ज्यादा श्रद्धालु आए हुए हैं। ये श्रद्धालु भगवान बुद्ध की ज्ञानस्थली महाबोधी मंदिर में पूजा और बोधीवृक्ष की नीचे ध्यान लगाने जा रहे हैं। लोगों को भगावन का दर्शन करने में काफी देर तक कतार में खड़ा रहना पड़ता है बावजूद उनकी आस्था लगातार बरकरार है। भक्तों के मुताबिक वे यहां आकर दिल से शांति और सुकून महसूस करते हैं। आम श्रद्धालुओं के साथ ही कई योगी और स्कॉलर भी महाबोधी मंदिर में पूजा और अराधना करने आ रहे हैं। इनकी मानें तो ईश्वर तो हर किसी के शरीर में विराजमान हैं लेकिन मंदिर में आने के बाद मानव की ईश्वरीय शक्ति जागृत हो जाती है। जिससे वह अपने और समाज के लिए कुछ बेहतर करने की प्रेरणा लेकर यहां से जाता है। भगवान बुद्ध ने दया, करुणा, शांति एवं भाईचारा के साथ लोगों को एक साथ आकर विश्व कल्याण का आह्वान किया था और यहां आने वाले श्रद्धालु उनके विचार को समझने और उनका अनुपालन करने की प्रेरणा लेकर यहां से जा रहे हैं।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS