ब्रेकिंग न्यूज़
सीतामढ़ी के मेजरगंज में शहीद हुए सब इंस्पेक्टर दिनेश राम का मोतिहारी के बरनावाघाट पर राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कारकोई भी सरकार किसानों को नुकसान पहुंचाने वाले कानून बनाने की हिमाकत नहीं कर सकती- श्री तोमरपुद्दुचेरी में प्रधानमंत्री ने कई विकास परियोजनाओं की शुरूआत कीसमस्तीपुर: एक मार्च से कोविड-19 टीकाकरण के तीसरे फेज की होगी शुरुआतमोतिहारी के कई पुलिस पदाधिकारी इधर से उधर, छतौनी के नये एसएचओ विजय प्रसाद राय व नगर थानाध्यक्ष बने विजय प्रसाद राय,जबकि मधुबन एसएचओ पर हुई कार्यवाईमोतिहारी के कई पुलिस पदाधिकारी इधर से उधर, छतौनी के नये एसएचओ विजय प्रसाद राय व नगर थानाध्यक्ष बने विजय प्रसाद राय,जबकि मधुबन एसएचओ पर हुई कार्यवाईसमस्तीपुर : भीषण सड़क हादसे में बस व बोलेरो की हुई टक्कर, बिथान की चार छात्राओं की मौत, दर्जन भर जख्मीसमस्तीपुर: हर ब्लॉक के अस्पताल में होगी एईएस व जेई के इलाज की व्यवस्था
झारखंड
धड़ल्ले से हो रहा उत्खनन कार्य, विभागीय अधिकारी मौन
By Deshwani | Publish Date: 8/6/2017 10:37:56 AM
धड़ल्ले से हो रहा उत्खनन कार्य, विभागीय अधिकारी मौन

गढ़वा,(हि.स.)। भवनाथपुर थाना क्षेत्र में अवैध रूप से पहाड़ों से पत्थर उत्खन्न का गोरखधंधा जोरों से चल रहा है। इन पत्थरों का उपयोग सड़क निर्माण में किया जा रहा है। जिससे जंगल सहित पहाड़ों को नुकसान होने के साथ लाखों रुपये के राजस्व की क्षति हो रही है। मामला भवनाथपुर थाना क्षेत्र के बुका गांव के लंगड़ी स्थित चरमहि पहाड़ का है, जहां से वन विभाग एवं सड़क निर्माण संवेदक की मिलीभगत से अवैध तरीके से पहाड़ से पत्थर का उत्खनन कई दिनों से चल रहा है। 
दोयम दर्जे के पत्थर का उपयोग भवनाथपुर बुका मोड़ मुख्य पथ से चेरवाडीह तक बन रहे कालीकरण पथ निर्माण में किया जा रहा है। इस संबंध में पत्थर तुड़ाई करने वाले मजदूर रीजन बासुदेव भुइंया, रमेश भुइंया, रामवृक्ष भुइंया बिश्वनाथ पासवान देवनाथ पासवान सहित कई मजदूरों ने बताया कि सड़क निर्माण में फिलिंग के लिए उपयोग हो रहे घटिया पत्थर का विरोध किया था लेकिन सड़क निर्माण संवेदक बबन सिंह ने सभी को पत्थर तुड़ाई के कार्य में लगा दिया। 
मजदूरों ने बताया कि उन्हें सड़क निर्माण संवेदक पांच रुपये प्रति ट्रैक्टर ट्रॉली मजदूरी भुगतान किया जाता है। संवेदक सड़क की फिलिंग के लिए घटिया और कमजोर पत्थरों का उपयोग कर सड़क की गुणवत्ता के साथ खिलवाड़ कर रहा है। दूसरी ओर पदाधिकारी एवं संवेदक की घालमेल से लाखों सरकारी राजस्व की नुकसान हो रही है। इस संबंध में रेंजर मुन्ना पासवान ने बताया कि उन्हें इस मामले की जानकारी नहीं है। मामले की जांच कराई जाएगी, जांचोपरांत दोषी पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS