ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
बिहार
मुख्य संरक्षा आयुक्त ने मशरक-थावे रेलखंड का किया निरीक्षण
By Deshwani | Publish Date: 6/3/2017 8:03:00 PM
मुख्य संरक्षा आयुक्त ने मशरक-थावे रेलखंड का किया निरीक्षण

छपरा (सारण) । पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा-थावे रेलखंड के मशरक-थावे रेलखंड का छोटी रेल लाइन से बड़ी रेल लाइन में अमान परिवर्तन कार्य पूर्ण होने पर मुख्य संरक्षा आयुक्त प्रमोद कुमार आचार्य सोमवार को निरीक्षण किया और हाई स्पीड में ट्रायल ट्रेन का परिचालन किया गया । निरीक्षण के दौरान वाराणसी मंडल के मंडल रेल प्रबंधक एस के कश्यप, वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त आर के शर्मा, सहायक मंडल सुरक्षा आयुक्त नीरज चंद्रौल, यातायात निरीक्षक विश्वजीत कुमार, आरपीएफ के प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार सिन्हा, उप निरीक्षक गिरिजेश विश्वकर्मा समेत रेलवे के कई अन्य अधिकारी मौजूद थे। निरीक्षण और ट्रायल ट्रेन का परिचालन में सब कुछ ठीक- ठाक पाया गया है और सीआरएस ने संरक्षा से जुड़े कुछ सुधार कार्य कराने का निर्देश दिया है । सीआरएस ने एक सप्ताह के अंदर फिटनेस रिपोर्ट सौपने की बात कही है । डीआरएम एस के कश्यप ने बताया कि सीआरएस की हरी झंडी मिलने पर इसी माह में मशरक - थावे के बीच ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा । सीआरएस की हरी झंडी मिलने पर इसी माह में सबसे पहले दो जोड़ी पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा ।
 छपरा से मशरक के बीच चलायी जा रही पैसेंजर ट्रेनों का थावे तक मार्ग विस्तार कर दिया जाएगा । इसके अलावा पैसेंजर ट्रेनों की संख्या भी बढायी जाएगी । इस रेलखंड पर तीन एक्सप्रेस ट्रेनोंका परिचालन नये वित्तीय वर्ष में शुरू किया जाएगा जिसमें एक तेजस एक्सप्रेस ट्रेन और एक अंत्योदय एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन करना शामिल है । साथ ही पाटलिपुत्रा से छपरा- मशरक- थावे के रास्ते गोरखपुर तक एक एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन किया जाएगा । मशरक थावे रेल खंड पर छोटी रेल लाइन की अंतिम ट्रेन का परिचालन 31 मार्च 2015 को किया गया था जिसके बाद 1 अप्रैल 2015 से अमान परिवर्तन का कार्य शुरू कर दिया गया । करीब एक सौ चार किलोमीटर लंबी रेल खंड पर छपरा- मशरक के बीच 42 किलोमीटर अमान परिवर्तन का कार्य जनवरी माह में पूर्ण कर लिया गया था। 
दस जनवरी से छपरा मशरक रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया गया है । वर्तमान समय में दो जोड़ी पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन हो रहा है । छपरा- थावे रेलखंड पर मशरक से थावे के बीच की दूरी 62 किलोमीटर लंबी है । इस रेल खंड पर कुल दो दर्जन स्टेशन है जिसमें 13 हाल्ट स्टेशन है । करीब 104 किलोमीटर लंबी रेल खंड ग्रामीण इलाके से होकर गुजरती है और यह इस क्षेत्र की लाइफ लाइन मानी जाती है । सारण प्रमंडलीय मुख्यालय से सीवान और गोपालगंज जिले को जोड़ने वाली रेल खंड पर अमान परिवर्तन के बाद ट्रेनों का परिचालन शुरू होने की संभावना से आमजनों में खुशी का माहौल है । मशरक - थावे के बीच ट्रायल ट्रेन का परिचालन 110 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से हाई स्पीड से किया गया । इसके पहले रेलवे प्रशासन ने भी ट्रायल ट्रेन का परिचालन किया था और मुख्य संरक्षा आयुक्त प्रमोद कुमार आचार्य ने इस रेल खंड की संरक्षा जांच की । पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि पूर्वी परिक्षेत्र कोलकता के मुख्य संरक्षा आयुक्त प्रमोद कुमार आचार्य ने आज निरीक्षण किया और हाई स्पीड में ट्रायल ट्रेन का परिचालन किया गया । इस दौरान मंडल रेल प्रबंधक एस के कश्यप समेत मंडल और जोनल स्तर के कई अधिकारी भी मौजूद थे ।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS