ब्रेकिंग न्यूज़
समस्तीपुर : सरायरंजन में चुनाव प्रचार के दौरान ताबड़तोड़ फायरिंग, बाल बाल बचे प्रत्याशी व समर्थकमेगा स्किल डेवलपमेंट सिस्टम अंतर्गत युवाओं को मिलेगा रोजगार: मुख्यमंत्री नीतीश कुमारपश्चिम चंपारण: राहुल गाँधी ने चम्पारण व बिहार की जनता से नोटबन्दी व लॉक डाउन का मंजर याद दिलायारक्सौल: भाजपा सांगठनिक जिला अध्यक्ष वरुण कुमार सिंह ने जिला कार्यसमिति के चार सदस्यों को 6 वर्षों के लिए किया निष्कासितनेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य मुकेश चौरसिया की मौत के बाद नेपाल पुलिस से शिकायत दर्ज करने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन जारीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर दिल्ली भाजपा ने रेड लाइट पर बैनर और प्लेकार्ड के माध्यम से कोरोना से बचाव के लिए किया जागरूकIPL 2020: सनराइजर्स हैदराबाद ने दिल्‍ली कैपिटल्‍स को जीत के लिए 220 रन का दिया लक्ष्‍यबांग्‍लादेश में नदियों, तलाबों और जलाशयों में दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन के साथ दुर्गापूजा का त्‍यौहार संपन्‍न
बक्सर
सचेत नागरिकों के सूझबूझ से टला बड़ा हादसा
By Deshwani | Publish Date: 16/10/2017 3:06:36 PM
सचेत नागरिकों के सूझबूझ से टला बड़ा हादसा

बक्सर, (हि.स.)। रेलवे के एक गेट मैंन को चाय पीने की ऐसी तलब लगी कि चौसा रेलवे क्रॉसिंग के फाटक को वह खुला छोड़कर चाय पीने चला गया, वह भी उस वक्त जब बक्सर मुगलसराय पैसेंजर ट्रेन 70 की स्पीड से वहां से गुजरने वाली थी। 

वह तो कुछ सचेत नागरिकों के सूझबूझ का कमाल था कि उन्होंने अविलम्ब पटरी के दोनों तरफ मानव चैन बनाकर सकुशल उक्त पैसेंजर ट्रेन को पास कराया और एक मानवी उदंडता के चलते होने वाली किसी अज्ञात दुर्घटना को टाल दिया।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बीते रविवार चौसा रेलवे क्रासिंग का फाटक बंद नहीं था और अपने केबिन में तैनात रहने वाला गेट मैन भी वहां से नदारत था। इधर, लोगों ने जब ट्रेन को आते देखा तो उनके होश उड़ गए। पहले तो उन्होंने हल्ला कर आनन-फानन में वाहन चालकों को रोका और मानव चैन बनाकर किसी हादसे को टाल दिया। लोगों ने कहा की आए दिन कोई न कोई रेल हादसा होता रहता है, पर रेलकर्मी अपने कार्य शैली में कोई बदलाव नहीं ला रहे हैं। 

 

गेट मैन की इस लापरवाही के लिए चौसा स्टेशन मास्टर ने पैसेंजर ट्रेन के चालक के बयान पर फाटक संख्या 77 के गेट मैन के खिलाफ दो सदस्यीय जांच टीम का गठन कर दिया है। 

 

हिन्दुस्थान समाचार/अजय/वीरेन्द्र/आशुतोष

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS