ब्रेकिंग न्यूज़
नामकुम के पास भयंकर सड़क हादसा, बोलेरो-ट्रक की टक्‍कर में 7 लोगों की मौततीन चरणों में नहीं खुलेगा भाजपा का खाता: अखिलेश यादवआप-कांग्रेस में गंठबंधन को लेकर नहीं बनी बात, सिसोदिया ने कही ये बातफिल्म यारियां की एक्ट्रेस एवलिन शर्मा को याद आए पुराने दिन, शेयर की ये तस्वीरेंराष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने म्यूलर जांच रिपोर्ट को पूर्णतया असत्य और निराधार बतायासुपौल में राहुल ने पीएम पर जमकर साधा निशाना, कहा- चौकीदार को ड्यूटी से हटाने वाली है जनताफारबिसगंज में बोले प्रधानमंत्री मोदी, जनता की तपस्या को विकास कर लौटाऊंगाबेकार गई राणा और रसेल की पारी, बेंगलुरु ने 10 रन से जीता रोमांचक मुकाबला
बिज़नेस
आरबीआई मौजूदा बाजार स्थिति के अनुसार निर्णय करेगा: जेटली
By Deshwani | Publish Date: 3/4/2019 2:52:04 PM
आरबीआई मौजूदा बाजार स्थिति के अनुसार निर्णय करेगा: जेटली

नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भरोसा जताया कि रिजर्व बैंक बाजार की मौजूदा स्थिति के अनुसार निर्णय करेगा। जेटली ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा आरबीआई के परिपत्र को खारिज करने के फैसले के बाद यह बात कही।

 
शीर्ष अदालत के निर्णय के बारे में पूछे जाने पर जेटली ने कहा, 'हम फैसले की प्रति प्राप्त करने की कोशिश कर रहे हैं। हम इसे पढ़ेंगे और मुझे भरोसा है कि आरबीआई बाजार की मौजूदा स्थिति के अनुसार निर्णय करेगा।'
 
 
ज्ञात हो कि सुप्रीम कोर्ट ने भारतीय रिजर्व बैंक के उस परिपत्र को मंगलवार को रद्द कर दिया जिसमें कर्ज लौटाने में एक दिन की भी चूक पर कंपनी को दिवालिया घोषित करने का प्रावधान है। न्यायाधीश आरएफ नरीमन ने कहा, 'हमने आरबीआई परिपत्र को असंवैधानिक घोषित किया है।'
 
रिजर्व बैंक ने 12 फरवरी 2018 को परिपत्र जारी कर कहा था कि बैंकों को 2,000 करोड़ रुपये या उससे ऊपर के कर्ज के मामलों में एक दिन की भी चूक की स्थिति में दिवाला एवं ऋण शोधन अक्षमता कानून के तहत 180 दिन के अंदर ऋण समाधान प्रक्रिया शुरू करनी होगी। इसमें कहा गया था कि यदि निर्धारित अवधि में कोई समाधान नहीं तलाशा जा सके तो गैर-निष्पादित खातों को राष्ट्रीय कंपनी विधि प्राधिकरण के समक्ष रखा जाए।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS