ब्रेकिंग न्यूज़
नहीं मिली एबुलेंस, पिता को कंधे पर ले जाना पड़ा बेटे का शव, जिला मजिस्ट्रेट ने लिया संज्ञान, मांगा स्पष्टीकरणपुलिसकर्मी ही शराबबंदी कानून की घज्जियां उड़ा रहे हैं, दिन में ली शपथ तो रात में नशे की हालत में गिरफ्तारबसपा में परिवारवाद का नया अध्यायमहिला फुटबॉल विश्व कप: अमेरिका क्वॉर्टरफाइनल में, फ्रांस से होगा सामनाविश्व कप: ऑस्‍ट्रेलिया को पहला झटका, वार्नर 53 रन पर आउट, स्‍कोर 26 ओवर में 143 रनगढ़वा में भीषण सड़क हादसा, बस के खाई में गिरने से छह की मौत, 40 घायलपीएनबी घोटाला: हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी की एंटीगुवा की नागरिकता होगी रद्द, जल्द लाया जाएगा भारतआपातकाल के 44 साल: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- 'लोकतंत्र के लिए संघर्ष करनेवाले नायकों को सलाम'
बिज़नेस
टाटा समेत तीन कंपनियां हवाई अड्डा कारोबार में करेंगी निवेश
By Deshwani | Publish Date: 27/3/2019 4:37:32 PM
टाटा समेत तीन कंपनियां हवाई अड्डा कारोबार में करेंगी निवेश

नई दिल्ली। जीएमआर इंफ्रास्ट्रक्चर ने आज कहा कि टाटा समूह, सिंगापुर की सरकारी संपत्ति कोष जीआईसी की सहयोगी और एसएसजी कैपिटल मैनेजमेंट कंपनी के हवाई अड्डा कारोबार में 8,000 करोड़ रुपये का निवेश करेंगी। इस सौदे के बाद, जीएमआर एयरपोर्ट में जीएमआर इंफ्रा और उसकी सहयोगी कंपनियों की हिस्सेदारी करीब 54 प्रतिशत रह जाएगी। कर्मचारी कल्याण न्यास की 2 प्रतिशत, टाटा समूह के पास करीब 20 प्रतिशत, जीआईसी की करीब 15 प्रतिशत और एसएसजी की करीब 10 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी।

 
इसके लेनदेन के तहत, जीएमआर इंफ्रास्ट्रक्चर का इरादा मौजूदा निजी इक्विटी निवेशकों को भी बाहर निकालने का है, जिनकी जीएमआर एयरपोर्ट्स लिमिटेड में 5.8 प्रतिशत हिस्सेदारी है। जीएमआर इंफ्रा ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि कंपनी ने निवेशकों (टाटा समूह, जीआईसी और एसएसजी कैपिटल) के साथ बाध्यकारी शर्त समझौते पर हस्ताक्षर किए है। जिसके तहत निवेशक जीएमआर एयरपोर्ट्स लिमिटेड में 8,000 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे।
 
 
आठ हजार करोड़ रुपये की राशि में जीएमआर एयरपोर्ट्स में 1,000 करोड़ रुपये का इक्विटी निवेश शामिल होगा। इसके अलावा जीएमआर इंफ्रा और उसकी अनुषंगी कंपनियों से जीएमआर एयरपोर्ट्स लिमिटेड के इक्विटी शेयर खरीदने के लिए रखे गए 7,000 करोड़ रुपये भी शामिल हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS