ब्रेकिंग न्यूज़
नाबालिग को मिली तालिबानी सजा, चीनी डालकर शरीर पर छोड़ दी चीटियांभारत के अहंकारी और नकारात्‍मक जवाब से निराश हूं', इमरान खान का मोदी सरकार पर हमलाराम मंदिर मुद्दे पर दिल्ली में साधु-संतों की बड़ी बैठक, कारसेवा पर हो सकता है फैसलाईरान में सैन्य परेड पर हमला, 9 सैनिकों समेत कई लोगों की मौतअमेरिका में घुस गया रूसी टोही विमान, फिर सेना में ऐसे मच गया हड़कंपडेई तूफान की चपेट में आधा हिंदुस्तान, 8 राज्यों में भारी बारिश का अलर्टपीएम मोदी और अनिल अंबानी ने रक्षाबलों पर 1,30,000 करोड़ की 'सर्जिकल स्ट्राइक' की : राहुल गांधीशिक्षाविदों से संवाद में बोले राहुल गांधी: कठिन परिस्थितियों में काम करने वाले शिक्षक देश के बेहद अहम संसाधन हैं
बिज़नेस
भारत में कारोबार का माहौल पहले से बेहतर : सुरेश प्रभु
By Deshwani | Publish Date: 13/6/2018 1:29:40 PM
भारत में कारोबार का माहौल पहले से बेहतर : सुरेश प्रभु

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा भारत की अर्थव्यवस्था का आकार अगले 10-15 सालों में 10 लाख करोड़ डॉलर का होगा। सुरेश प्रभु ने ट्वीट करते हुए कहा कि ग्रोथ को निजी निवेश से फायदा होगा। साथ ही टेक्नोलॉजी और खपत से मैन्युफैक्चरिंग, सर्विस और एग्रीकल्चर सेक्टर को रफ्तार मिलेगी। वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि भारत में कारोबार का माहौल सुधरा है। इसे और सुरधारने के लिए सरकार काम कर रही है। 

उन्होंने कहा कि देश की आर्थिक वृद्धि दर अगले दो साल में 8 प्रतिशत को पार कर सकती है। सरकार आने वाले सात-आठ साल में अर्थव्यवस्था के आकार को बढ़ाने के लिए नई औद्योगिक नीति बनाने समेत कई कदम उठा रही है। प्रभु के मुताबिक, 2018-19 में वृद्धि दर पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले बेहतर रहेगी। उन्होंने कहा, अगले दो साल में निश्चित रूप से हम 8 प्रतिशत वृद्धि दर के आंकड़े को पार करने के करीब होंगे। यह कई क्षेत्रों के बेहतर प्रदर्शन से होने जा रहा है। देश की जीडीपी वृद्धि दर पिछले वित्त वर्ष की जनवरी-मार्च तिमाही में 7.7 प्रतिशत रही। इसके साथ भारत ने तेजी से वृद्धि करने वाली अर्थव्यवस्था का तमगा बरकरार रखा है।

 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS