ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार
तीन सौ नशे की गोलियों के साथ रक्सौल स्टेशन से अंतरराज्यीय नशाखुरानी गिरोह के सरगना सहित 3 गिरफ्तार
By Deshwani | Publish Date: 2/11/2018 11:37:06 PM
तीन सौ नशे की गोलियों के साथ रक्सौल स्टेशन से अंतरराज्यीय  नशाखुरानी गिरोह के सरगना सहित 3 गिरफ्तार

अंतरराज्यीय नशाखुरानी गिरोह के सरगना सहित तीन सदस्य को रेल पुलिस टीम ने रक्सौल रेलवे स्टेशन से पकड़ा। फोटो- देशवाणी।

रक्सौल। अनिल कुमार। देशवाणी।

रेल डीएसपी रमाकांत उपाध्याय के नेतृत्व मेें रक्सौल जंक्शन से रेलवे पुलिस ने नशाखुरानी के अन्तरराज्यीय गिरोह के तीन सदस्य काे गिरफ्तार किया है। जिसमें इस गिरोह का सरगना सोनू भी शामिल है। पुलिस ने तीनों के पास से तीन सौ एटीवान नामक नशे की गोलियां जब्त की हैं।
 

 मुजफ्फरपुर रेल एसपी के निर्देश पर यह टीम गठित की गई थी। जिसमें मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर,रक्सौल, सुगौली व नरकटियागंज की रेल पुलिस शामिल थी। बताया गया है कि इस गिरोह का सेल्टर मुख्य रूप से रक्सौल ही है। जहां से मोतिहारी, रक्सौल, गोरखपुर, वाराणसी में यात्रियों को नशाखुरानी का शिकार बनाते हैं। सोनू पर नशाखुरानी सहित करीब एक दर्जन मामले दर्ज हैं। सोनू कुमार पूर्वी चम्पारण के दरपा थाना के पीपरा गांव का मूल निवासी है। 
 
 
गिरफ्तार किए गये-
सानू  कुमार- पीपरा, दरपा, पूर्वी चम्पारण
सैफुल्लाह मियां- छपकैया, बीरगंज, नेपाल
ओमप्रकाश साह सोनार- छपकैया, बीरगंज नेपाल
 

मुजफ्फरपुर रेल एसपी से मिला था गिरोह को पकड़ने का टास्क-
 
दरअसल 31 अक्टूबर को इस गिरोह ने एक यात्री को अपना शिकार बनाने की कोशिश की थी। यात्री ने रेल पुलिस को इसकी शिकायत की थी। गोरखपुर रेल पुलिस प्रशासन ने मुजफ्फरपुर रेल एसपी को इसका इनपुट दिया था। इनपुट के आधार पर मुजफ्फरपुर रेल एसपी के निर्देश पर डीएसपी उपाध्याय की अगुवाई में एक टीम गठित की गई। टीम ने मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सुगौली व रक्सौल स्टेशनों पर कड़ी निगरानी शुरू की। जिसपर आज तीनों रक्सौल स्टेशन से दबोच लिए गए।

इस सिलसिले में आज भी रक्सौल स्टेशन पर टीम निगरानी रखी हुयी थी। इसी बीच रेलवे स्टेशन पर तीन संदिग्ध को रेल पुलिस टीम ने देखा। टीम उसकी ओर बढ़ी। रेल पुलिस को देख तीनों संदिग्ध भागने लगे। तब रेल पुलिस ने कुछ दूर खदेड़ कर तीनों को दबोच लिया। गिरफ्तारी के बाद तीनों की तलाशी ली गयी। तब रेल पुलिस भौचक हो गयी। क्योंकि गिरफ्तार तीनों अन्तरराज्यीय गिरोह के सदस्य निकले। उनके पास से रेल पुलिस ने तीन सौ पीस एटीवान नामक नशे का टेबलेट, चार मोबाईल, एक हजार रुपए नगद व पाॅच सौ रुपया का एक पुराना नोट शामिल है।
रेल डीएसपी ने बताया गिरफ्तार नशाखुरानी गिरोह के सदस्य में मास्टर माइंड सरगना सोनू कुमार वल्द ध्रुव साह पिपरा दर्पा पूर्वी चम्पारण, सरफुल्ला मियाँ वल्द मस्तकीम मियाँ सिसोबारी छप्कैया बीरगंज नेपाल व ओमप्रकाश साह सोनार वल्द छोटेलाल साह छप्कैया बीरगंज पर्सा नेपाल शामिल है।
 
 
आज की रेड में शामिल थी कई थानों की जीरआरपी-
 
रेल पुलिस ने बताया कि गिरोह का सरगना सोनू कुमार दस केस में चार्जसीटेड है व कई बार जेल की हवा खा चुका है। 
छापेमारी टीम में रक्सौल रेल थानाध्यक्ष अनिल कुमार, सुगौली रेल थानाध्यक्ष दिनेश पांडेय, सुगौली रेल पुलिस इंस्पेक्टर महेश प्रसाद यादव, नरकटियागंज रेल पुलिस इंस्पेक्टर देवेनंद राउत व नरकटियागंज रेल थानाध्यक्ष सुनिल कुमार द्विवेदी सहित रेल पुलिस जवान शामिल है।  
 
 
मुजफ्फर जेल में सोनू ही सीखा था नशाखुरानी काम-
 
बताया गया है कि शातिर सोनू कुमार 2005 में मुजफ्फरपुर जेल में बंद था। वहीं पर उसकी मुलाकात नशाखुरानी के बदमाशों से हुई। जेल से निकलने के बाद रक्सौल में उसने नशाखुरानी का गिरोह बनाया। यह भी बताया जाता है कि वह माआेवादी संगठन में था। वहां पर संगठन से इसकी अनबन हो गई और माओवादियों के डर से भाग गया था। जीआर इस गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए रेड कर रही जीआरपली पुलिस रेड कर रही है।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS