ब्रेकिंग न्यूज़
प्रधानमंत्री मोदी ने विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर देश को किया संबोधित, कहा- आज के युवा की सबसे बड़ी ताकत उसकी स्किल ही हैभारतीय रेल ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बनाये विशेष किस्म के रेल डिब्बे, डिब्बों में किए गए ये बदलावइनकम टक्स ऑफिसर बन महिला के घर से 50 लाख का सोना लूटने का आरोपी मोतिहारी के मिस्कॉट से गिरफ्तार, ले गई बंगाल की पुलिसमोतिहारी डीएम के खाते से फर्जीवाड़ा गिरोह ने पटना से बैंक ऑफ इंडिया शाखा से एक लाख रुपए ट्रांस्फर की कोशिश की, गांधी मैदान व मोतिहारी थाने में एफआईआररक्सौल: ट्रेन से कटकर एक वृद्ध महिला की मौतऐश्वर्या और अराध्या भी निकलीं कोरोना पॉजिटिव, अमिताभ का बंगला जलसा कंटेनमेंट जोन घोषितअभिनेता अनुपम खेर की मां, भाई समेत परिवार के चार सदस्य कोरोना पॉजिटिवमोतिहारी-बेतिया सहित उत्तर बिहार के तराई इलाके में भारी बारिश व बज्रपात की चेतावनी
बिहार
सीबीआई ने स‍ृजन घोटाले के तीन मामलों का आरोप पत्र दाखिल किया, भागलपुर के पूर्व डीएम केपी रमैया व बीओबी के तत्कालीन मुख्य शाखा प्रबंधक सहित 28 आरोपित
By Deshwani | Publish Date: 27/6/2020 11:28:11 PM
सीबीआई ने स‍ृजन घोटाले के तीन मामलों का आरोप पत्र दाखिल किया, भागलपुर के पूर्व डीएम केपी रमैया व बीओबी के तत्कालीन मुख्य शाखा प्रबंधक सहित 28 आरोपित

पटना। सीबीआई ने भागलपुर जिले में हुए अरबों रुपए के सृजन घाटाले में शनिवार को यहां की विशेष अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया। तीन अलग-अलग मामलों में भारतीय प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी और पटना प्रमंडल के पूर्व आयुक्त केपी रमैया समेत साठ लोगों के खिलाफ पटना स्थित विशेष अदालत में आरोप पत्र दाखिल कर दिया है। ब्यूरो ने यह आरोप पत्र विशेष न्यायाधीश प्रजेश कुमार की अदालत में दाखिल किया है। अब तक पच्चीस मामलों में आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है।


 पहले मामलों में ब्यूरो ने 28 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया है। आरोपितों में भागलपुर के पूर्व जिलाधिकारी रहे केपी रमैया बैंक ऑप बड़ौदा के तत्कालीन मुख्य प्रबंधक व सृजन संस्था के अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारी भी शामिल हैं।

आरोपितों में भागलपुर के जिलाधिकारी रहे केपी रमैया, नजारत के उप समाहर्ता विजय कुमार , नाजिर अमरेंद्र कुमार यादव, सृजन संस्था की प्रबंधक सचिव सरिता झा, अध्यक्ष शुभ लक्ष्मी प्रसाद, बैंक ऑफ बड़ौदा के तत्कालीन मुख्य प्रबंधक शंकर प्रसाद दास, संयुक्त प्रबंधक वरुण कुमार, शाखा प्रबंधक

 

गोलक बिहारी पंडा, शाखा प्रबंधक आनंद चंद्र गदाई के अलावा सृजन की पूर्व सचिव देवी सम्मिलित हैं। मनोरमा देवी की मृत्यु हो चुकी है। दूसरे मामले में तेरह और तीसरे मामले में 29  लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया है। वर्ष 2017 में सीबीआई ने इस मामले की जांच शुरू की थी। 

 

 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS