ब्रेकिंग न्यूज़
आईएएस से छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री बनने वाले अजीत जोगी नहीं रहें, प्रधानमंत्री मोदी व सीएम नीतीश ने जताई गहरी शोक संवेदनामोतिहारी के चकिया में दो प्रवासी कामगारों की एक्सीडेंट में हुई मौत, बाइक पर सवार हो दिल्ली से जा रहे थे दरभंगा, रास्ते में हुई दुर्घटनामोतिहारी की पीपराकोठी में एसएसबी ने करीब 2 करोड़ मूल्य की मॉरफीन पकड़ी, वाहन जब्त, ड्राइवर भी गरफ्तारदेश के अलग-अलग हिस्सो से रक्सौल आए 470 लोगों को किया गया होम क्वारेंटाइनरक्सौल शहर के नागारोड में पुलिस ने छापेमारी कर 100 बोतल नेपाली शराब व 2 किलो 700 ग्राम गांजा किया जप्तसमस्तीपुर में बूढ़ी गंडक नदी में मिली लापता किशोर की लाशश्रमिक स्पेशल ट्रेन में प्रसव पीड़ा पर पहुंची मेडिकल टीम, बच्ची ने ली जन्मपुणे से आए प्रवासी की क्वारंटाइन सेंटर में मौत
बिहार
बिहार में ढाका के राजद विधायक फैसल रहमान पर एफआईआर के आदेश, लॉकडाउन में बिना अनुमति धरना पर बैठने का आरोप
By Deshwani | Publish Date: 20/5/2020 11:36:06 PM
बिहार में ढाका के राजद विधायक फैसल रहमान पर एफआईआर के आदेश, लॉकडाउन में बिना अनुमति धरना पर बैठने का आरोप

मोतिहारी। बिहार में पूर्वी चम्पारण के ढाका राजद विधायक पर एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। उनपर प्रशासन से बिना परमिशन लिए धरने पर बैठने का आरोप है। डीएम ने ढाका डीएसपी व एसडीओ को एफआईआर करने के को कहा है।

हालांकि अभी तक उनपर एफआईआर दर्ज नहीं किया जा सका है। लिहाजा एफआईआर के आदेश के बाद जिले की राजनीति गरमा गई है। ढाका विधायक प्रवासी मजदूरों की परेशानी को लेकर सोमवार से  ढाका के चौक पर धरना पर बैठे थे। बुधवार को उन्होंने धरना समाप्त किया था।

राजद विधायक फैसल रहमान पर धरना समाप्ति के बाद प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश के बाद ढाका की राजनीति में एकाएक उछाल आ गया है। ढाका विधायक श्री रमहमान ने कहा है कि वे गरीब-मजदूरों के प्रतिनिधि हैं। अगर गरीबों लिए आवाज उठाने पर उन्हें जेल भी जाना पड़े तो वे तैयार हैं। उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखा-#गरीब_मजदूरों_की_लड़ाई_लड़ते_रहेंगे_नही_डरेंगे_नही_झुकेंगे।


विधायक फैसल रहमान ने अपने फेसबुक पेज पर यह भी लिखा-

ढ़ाका प्रखण्ड के तमाम क्वारंटाइन सेंटर__ से निरंतर अनियमितता की शिकायत और भ्रष्टाचार की सूचनाएं मिल रही थी। ढ़ाका विधानसभा क्षेत्र का निर्वाचित प्रतिनिधि होने के नाते सेंटर का निरीक्षण करना शिकायतों पर संज्ञान लेना मेरा कर्तव्य बन जाता है। मैं इसी क्रम में ढ़ाका के सभी क्वारंटाइन सेन्टरों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान चारों तरफ़ अनियमितता और भ्रष्टाचार पाया। इसलिए इस अनियमितता के विरुद्ध अपने साथियों के साथ फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपने साथियों के साथ स्थानीय ढ़ाका गाँधी चौक पर अनिश्चितकालीन धरना पर बैठ गये। प्रखण्ड विकास पदाधिकारी और अंचलाधिकारी पर कारवाई के बाद एवं 2 दिनों के अंदर सभी क्वारंटाइन सेंटर पर सभी सुविधा मुहैया कराने के आश्वाशन पर कल शाम को धरना समाप्त कर दिया था। मैं एक तरफ ग़रीब-मज़दूरों के हक़ और बेहतर सुविधा के लिए लड़ रहा था, लेकिन दूसरी तरफ़ मज़दूर विरोधी दल भाजपा नेताओ ने मेरे विरुद्ध साज़िश रच रहे थे। भाजपा नेताओं के दबाव में पूर्वी चम्पारण जिलाधिकारी ने बिना परमिशन के वाहन प्रयोग करने और धरना देने के लिए मेरे विरुद्ध एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। मैं ग़रीब-मज़दूरों का प्रतिनिधि हूँ अगर ग़रीब-मज़दूरों की आवाज़ उठाने के लिए मुझें जेल जाना पड़े तो भी तैयार है। लेकिन अगर क्वारंटाइन सेंटर में भ्र्ष्टाचार को समाप्त कर पर्याप्त सुविधाएं नहीं दी जाती है तब हम चरणबद्ध आंदोलन करेंगे।

आपका अपना:-

Faisal Rahman :-विधायक ढाका विधानसभा(पूर्वी चंपारण)

 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS