ब्रेकिंग न्यूज़
डाकघरों के माध्यम से दस दिन की अवधि में एक करोड़ से अधिक राष्ट्रीय ध्वज खरीदे गयेमोतिहारी कस्टम के दो हवलदारों को केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने पकड़ा, 20 हजार रुपये घूस लेने का आरोपप्रधानमंत्री ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 के भारतीय दल का अभिवादन कियाएनएमडीसी और फिक्की भारतीय खनिज एवं धातु उद्योग पर सम्मेलन का आयोजन करेंगेबिहार: आज बादल गरजने के साथ ठनका गिरने की आशंका, तीन जिलों में भारी बारिश का अलर्टमोतिहारी, हरसिद्धि के जागापाकड़ में महावीरी झंडा के दौरान आर्केस्ट्रा में फायरिंग, दो घायल, प्राथमिकी दर्जबिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा को हटाने के लिए सत्तारूढ महागठबंधन के सदस्यों ने नोटिस सौंपाप्रधानमंत्री ने आशूरा के दिन हज़रत इमाम हुसैन की शहादत को याद किया
बिहार
बिहार के अधिकांश हिस्सों में रूक-रूक कर बारिश, सबसे अधिक पश्चिमी चम्पारण के वाल्मीकिनगर में
By Deshwani | Publish Date: 2/8/2022 7:02:27 PM
बिहार के अधिकांश हिस्सों में रूक-रूक कर बारिश, सबसे अधिक पश्चिमी चम्पारण के वाल्मीकिनगर में

पटना। मॉनसून की सक्रियता के कारण पिछले तीन दिनों से राज्य के अधिकांश हिस्सों में रूक-रूक कर बारिश का सिलसिला जारी है। लिहाजा पूर्वी व चश्चिमी चम्पारण सहित समस्तीपुर व बेगुसराय के कई हिस्सों में भारी बारिश दर्ज की गयी है। 
 
नेपाल के जलग्रहण क्षेत्र में हो रही भारी बारिश के चलते प्रदेश की कई नदियां उफान पर है। गंडक नदी गोपालगंज के डुमरिया घाट पर खतरे के निशान को पार कर चुकी है।


 वहीं कई स्थानों पर बहुत भारी बारिश दर्ज की गयी है। मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार पश्चिम चम्पारण जिले के वाल्मीकि नगर में सबसे अधिक एक सौ उन्नीस दशमलव दो मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गयी है। 

मुजफ्फरपुर जिले के साहेबगंज में एक सौ दो दसमलव चार और गोपालगंज जिले के बरौली में एक सौ दो दशमलव दो मिलीमीटर बारिश हुई है। पूर्वी चम्पारण, पश्चिमी चम्पारण, समस्तीपुर और बेगूसराय जिले में भी कई जगहों पर भारी बारिश दर्ज की गयी है। मौसम पूर्वानुमान में कहा गया है कि अगले चौबीस घंटों के दौरान सीतामढी शिवहर मधुबनी, सुपौल, अररिया और किशनगंज जिले के एक-दो स्थानों पर भारी बारिश की आशंका है। इसे लेकर लो अलर्ट जारी किया गया है। शेष अन्य जिलों में भी बारिश का पूर्वानुमान है। इस दौरान बज्रपात की भी चेतावनी जारी की गयी है।


 वहीं, बागमती नदी रून्नीसैदपुर और बेनीबाद में तथा कमला बलान जयनगर और झंझारपुर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। कोसी नदी का जलस्तर सुपौल के बसुआ में लाल निशान से दो मीटर ऊपर चला गया है। नदी का जलस्तर खगड़िया के बलतारा में भी खतरे के निशान को पार कर गया है। महानंदा नदी का जलस्तर ढंगराघाट में खतरे के निशान से ग्यारह सेंटीमीटर ऊपर चला गया है। वहीं, नदी का जलस्तर तैयबपुर और झावा में लाल निशान के आस-पास बना हुआ है। परमान नदी अररिया में खतरे के निशान से तैंतालीस सेंटीमीटर ऊपर बह रही है।

Gandak Barrage Valmikinagar    
 Date - 02/08/2022 Time  03:00 
PM
U/S Level - 359.70ft

D/S Level - 357.70ft

D/S Discharge  3,03,800cusecs        

E.M.C  - NIL cusecs 
M.W.C - NIL cusecs    

Total discharge- 3,03,800 
cusecs
Status- R

Total discharge last year- 1,60,300 cusec
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS