ब्रेकिंग न्यूज़
छात्रों और गरीबों के घर में शादी में उपलब्‍ध करायेंगे 25 रुपये किलो प्याज : पप्‍पू यादवप्रेसिडेंसीएल डिबेट में JACP – AISF के उम्‍मीदवार मनीष कुमार ने कहा - जीते तो शिक्षा के साथ सुरक्षा और सम्मान की गारंटी मेरीजम्मू कश्मीर में गांव वापसी कार्यक्रम के दौरान पुलिस और नागरिक प्रशासन की सेवाएं सराहनीय रही: गिरिश चंद्र मुर्मूआज वित्त वर्ष की पांचवी द्वि-मासिक मौद्रिक नीति की घोषणा करेगा रिजर्व बैंकहैदराबाद दुष्कर्म एवं जघन्य हत्या मामले में संसद सदनों से निकली एक आवाज़ दोषियों को कड़ी सजा की मांगआईसीसी टेस्ट बल्लेबाजी रैंकिंग में फिर से प्रथम स्थान पर भारतीय कप्तान विराट कोहलीअमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने चीन के उइगर मुसलमानों को यातनाएं दिए जाने के खिलाफ पारित किया एक विधायकझारखंड में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के प्रचार का आज अंतिम दिन
बिहार
बिहार विधानमंडल का शीतकालीन सत्र: सदन की कार्यवाही सोमवार तक के लिए स्थगित
By Deshwani | Publish Date: 22/11/2019 3:08:15 PM
बिहार विधानमंडल का शीतकालीन सत्र: सदन की कार्यवाही सोमवार तक के लिए स्थगित

पटना। आज से शुरू हुए बिहार विधानमंडल के शीतकालीन सत्र की कार्यवाही 25 नवंबर तक के लिए स्थगित हो गई है। इस दौरान विपक्ष ने सदन के बाहर जमकर हंगामा किया। सदन की पहले दिन की कार्यवाही के दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव एक साथ नजर आए। इस दौरान विपक्ष ने बिहार विधानसभा के गेट पर जेएनयू मामले को लेकर हंगामा किया।

 
सत्र के पहले दिन दोनों ही सदनों में विधान मंडल के पूर्व सदस्य नैय्यर आजम, रघुपति गोप, पूर्व सदस्य व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ जगन्नाथ मिश्र, पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं अधिवक्ता राम जेठमलानी, बूलचंद्र, पूर्व मंत्री तुलसी दास मेहता के निधन पर पर शोक व्यक्त किया गया। इसके बाद सदन की कार्यवाही सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।
 
22 नवंबर से 28 नवंबर तक चलने वाले इस शीतकालीन सत्र में बिहार विधानसभा और विधान परिषद् की कुल 5 बैठकें निर्धारित की गई हैं। इस सत्र में वित्त वर्ष 2019-20 का द्वितीय अनुपूरक बजट बहस के बाद 27 नवंबर को पारित किया जाएगा। इससे जुड़ा बिहार विनियोग विधेयक भी इसी दिन पारित होगा। सरकार की ओर से कुछ महत्वपूर्ण विधेयक सदन के पटल पर रखे जाएंगे, जिन्हें बहस के बाद पारित किया जाएगा।

सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष
पटना में जलजमाव की भयावह होने के बाद यह पहला सत्र है, ऐसे में विपक्ष इसे बड़ा मुद्दा बनाने की तैयारी में हैं। इसके साथ ही बिहार में दिन ब दिन बिगड़ रही कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर भी विपक्ष सरकार को घेरने की तैयारी में है।
 
विधानसभा और विधान परिषद की कार्यवाही 28 नवंबर को अनिश्चितकाल के स्थगित कर दी जाएगी। विशेष अदालत से अनुमति मिलने के बाद जेल में बंद मोकामा के निर्दलीय विधायक अनंत सिंह भी सदन की कार्यवाही में शामिल होंगे। वह पटना जिले के बाढ़ अनुमंडल के लधमा गांव स्थित उनके पैत्रृक आवास से प्रतिबंधित एके-47 राइफल की बरामदगी मामले में जेल में बंद हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS