बिहार
भारत बंद: बिहार में बंद समर्थकों ने कई जगह किया सड़क जाम, रोकी ट्रेन
By Deshwani | Publish Date: 5/3/2019 1:05:28 PM
भारत बंद: बिहार में बंद समर्थकों ने कई जगह किया सड़क जाम, रोकी ट्रेन

पटना। आदिवासी और वनवासियों को उनके अधिकारों के संरक्षण के लिए केंद्र सरकार द्वारा अध्यादेश लाने और 13 प्वाइंट रोस्टर के खिलाफ आज भारत बंद का असर बिहार के कई इलाकों में देखने को मिला। 

 
जहानाबाद में पटना-रांची जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन को बंद समर्थकों ने रोक दिया और रेलवे ट्रैक पर आगजनी कर प्रदर्शन किया। वहीं, हाजीपुर के पासवान चौक पर बंद समर्थकों ने सड़क जाम कर दिया। इससे महात्मा गांधी सेतु पर जाम लग गया।
 
जहानाबाद में भारत बंद को लेकर राजद समर्थक आज सुबह सड़कों पर उतर आये। सुबह में ही राजद कार्यकर्ता जहानाबाद स्टेशन पहुंचे और ट्रैक पर आगजनी कर पटना-रांची जनशताब्दी को रोक दिया। साथ ही पटना-गया एनएच-83 को जाम कर दिया गया। वहीं, वैशाली जिले के हाजीपुर में भीम आर्मी सेना के सदस्यों और महागठबंधन के नेता-कार्यकर्ताओं ने पासवान चौक को जाम कर दिया। इससे महात्मा गांधी सेतु पर जाम लग गया। जाम के कारण सेतु के दोनों ओर गाड़ियों की लंबी-लंबी कतारें लग गयीं। 
 
गोपालगंज के थावे थाना क्षेत्र के पैठानपट्टी मोड़ पर बंद समर्थकों ने बाजार बंद कर आगजनी की। वहीं, नवादा जिला मुख्यालय स्थित रोह बाजार में राजद कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर दिया। वहीं, भीम आर्मी के सदस्य भी सड़क पर उतर आये और सड़क को जाम कर दिया।
 
आदिवासी और वनवासियों को उनके अधिकारों के संरक्षण के लिए केंद्र सरकार द्वारा अध्यादेश लाने और 13 प्वाइंट रोस्टर के खिलाफ भारत बंद का आह्वान किया है। मालूम हो कि आदिवासियों और वनवासियों को उनके आवास से बेदखल करने के फैसले से सुप्रीम कोर्ट ने राहत दी है। इसके बावजूद आदिवासी समूहों ने पांच मार्च को घोषित भारत बंद के फैसले पर कायम रहने का निर्णय किया। 
 
आदिवासियों का मानना है कि यह राहत फौरी है। वन अधिकार अधिनियम के तहत उचित कानून की गैरमौजूदगी में इसे कभी भी पलटा जा सकता है। आदिवासी समूहों ने अधिकारों के संरक्षण को लेकर अध्‍यादेश लाने की मांग केंद्र सरकार से की है। वहीं, आरक्षण में 13 प्वाइंट रोस्टर का विरोध, न्यायपालिका में आरक्षण, आउटसोर्सिंग में आरक्षण समेत अन्य मांगों को लेकर भी बंद का आह्वान किया गया है। 
भारत बंद को राष्ट्रीय जनता दल, वामसेफ, भीम आर्मी, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी समेत कई दलों का समर्थन मिला है। राजद समेत कई दलों के कार्यकर्ता और नेता बंद में सक्रिय भागीदारी निभाते हुए सड़कों पर उतर आये हैं। भारत बंद को जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा, माकपा, भाकपा और भाकपा माले ने समर्थन दिया है। साथ ही जिग्नेश मेवानी, प्रो रतन लाल जैसे कई नेताओं ने भी अपना समर्थन दिया है।
औरंगाबाद में भारत बंद के समर्थन में आज विपक्षी दल सड़क पर उतरे और सरकार विरोधी नारे लगाये। बंद में राजद, बहुजन क्रांति मोर्चा, संविधान बचाओ संघर्ष समिति, यदुवंशी सेना समेत अन्य दलों के कार्यकर्ता शामिल हुए। सभी कार्यकर्ता शहर के रमेश चौक पहुंचे और सड़क को जाम कर दिया। कुछ कार्यकर्ताओं ने पैदल मार्च निकाला और शहर में भ्रमण कर बंद कराया। इसके बाद नारेबाजी करते हुए ओवरब्रिज के समीप हाई-वे पर पहुंचे और जाम करने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने समझा-बुझा कर उन्हें वहां से हटा दिया। इधर, राजद कार्यकर्ताओं ने केंद और राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने ईवीएम हटाओ, संविधान बचाओ... बैलेट पेपर लाओ, 13 पॉइंट रोस्टर हटाओ... समेत कई नारे लगाये। सड़क जाम की सूचना पर नगर थानाध्यक्ष दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे और समझा-बुझाकर जाम खत्म कराया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS