बिहार
सुपौल के बाद सहरसा में छात्राओं से छेड़छाड़, मनचलों के खौफ से दर्जनों लड़कियां नहीं जा रही स्कूल
By Deshwani | Publish Date: 10/10/2018 5:10:43 PM
सुपौल के बाद सहरसा में छात्राओं से छेड़छाड़, मनचलों के खौफ से दर्जनों लड़कियां नहीं जा रही स्कूल

पटना। बिहार में महिलाओं-लड़कियों के साथ हो रहे आत्याचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। सुपौल में छेड़छाड़ का विरोध करने पर छात्राओं के साथ हुई मारपीट के बाद सहरसा में लड़कियों के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। इसके चलते गांव की लड़कियों में इतना खौफ पैदा हो गया है कि तीन दर्जन से अधिक छात्राओं ने स्कूल जाना ही छोड़ दिया है। इस पर राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट कर सीएम नीतीश पर निशाना साधा है।

 
जानकारी के अनुसार, मामला सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर थाने के तहत एकपढ़हा गांव का है। गांव में कोई भी हाईस्कूल ना होने के कारण छात्राओं को सात किलोमीटर दूर सिमरी बख्तियारपुर जाना पड़ता है। इस दौरान एक छात्रा अपनी दो सहेलियों के साथ साइकिल पर स्कूल जा रही थी। हर दिन की तरह कुछ मनचलों ने छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की। इस दौरान जब एक छात्रा के दो छोटे भाइयों ने इसका विरोध किया तो मनचलों ने उनकी पिटाई कर दी। इस दौरान छात्रा के एक भाई का हाथ टूट गया।
 
इस घटना के बाद से गांव की लड़कियों भय के साए में आ गई हैं और गांव की तीन दर्जन छात्राओं ने स्कूल जाना छोड़ दिया है। इस पर छात्राओं का कहना है कि उनकी पढ़ाई का बहुत नुकसान हो रहा है। साथ ही छात्राएं मुख्यमंत्री से इस मामले में उचित कार्रवाई करने की मांग कर रही हैं।
 
पीड़ित छात्रा ने अपनी भाई के साथ हुई मारपीट के बाद सिमरी बख्तियारपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई लेकिन कोई भी पुलिस अधिकारी इस मामले की जांच करने के लिए गांव नहीं पहुंचा। मामले के मीडिया में आने के बाद पुलिस प्रशासन सतर्क हुआ और मामले की जांच शुरू की गई।
 
राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट कर कहा कि भाजपाई नीतीश के राक्षसराज में बिहार की बच्चियां स्कूल जाना छोड़ रही हैं। चुराई हुई अनैतिक सरकार ने आतंकराज की पराकाष्ठा को लांघ दिया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS