ब्रेकिंग न्यूज़
दिग्‍व‍िजय भोपाल से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, 30 साल से यहां जीत नहीं पाई है कांग्रेसराम मनोहर लोहिया का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशानासुरक्षाबलों को सर्च अभियान के दौरान मिली सफलता, भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामदहाइवा की चपेट में आने से युवक की मौत, विरोध में लोगों ने किया सड़क जामकांग्रेस की सरकार आई तो दस दिन में किसान का कर्जा होगा माफ: राहुल गांधीआईपीएल 2019: आईपीएल के शुरुआती 6 मैचों में नहीं खेलेंगे लसिथ मलिंगा, सामने आई ये वजहमणिकर्णिका' के बाद कंगना का बड़ा धमाका, जयललिता की बायोपिक से जुड़ा नामकरमबीर सिंह होंगे अगले नौसेना प्रमुख, सुनील लांबा 31 मई को हो रहे हैं रिटायर
बिहार
अतिथि सत्कार से अभिभूत होकर दरभंगा से मसूरी लौटे 30 प्रशिक्षु आईएएस
By Deshwani | Publish Date: 2/11/2018 8:21:03 PM
अतिथि सत्कार से अभिभूत होकर दरभंगा से मसूरी लौटे 30 प्रशिक्षु आईएएस

दरभंगा कमिश्नर, डीएम व एएसपी के साथ प्रशिक्षु आईएस अधिकारिगण। फोटो- देशवाणी।

 
दरभंगा। देवेन्द्र कुमार ठाकुर।
 
मिथिला के अतिथि सत्कार से अभिभूत 30 आईएसएस अधिकारी शुक्रवार को होकर मसूरी लौटे गये। मसूरी से आये प्रशिक्षु आईएएस अधिकारियों के विदाई समारोह के वक्त दरभंगा प्रमण्डल के कमिश्नर मंयक वरवड़े, दरभंगा जिलाधिकारी डॉ चन्द्र शेखर सिंह और वरीय पुलिस अधीक्षक गरिमा मलिक ने उन्हें मिथिलांचल का प्रतिक चिन्ह मिथिला पेटिंग भेट की। दरंभगा के अधिकारिकयांे से मिले सहयोंग व स्नेह से सभी ट्रेनी अधिकारिगण काफी खुश थे। बताया कि वे उनका स्नेह कभी भुला नहीं पाएंगे।
 
 
ज्ञात हो कि अखिल भारतीय प्रशिक्षु आईएएस पांच दिनों तक जिले के विभिन्न गांवो मे रहकर ग्रामीण क्षेत्रों का अध्ययन किया। ये सभी प्रशिक्षु आईएएस लाल बहादुर शास्त्री नेशनल एकेडमी ऑफ एडमिस्ट्रेशन मसूरी में प्रशिक्षरत हैं। इन लोगों ने ग्रामीण क्षेत्रों में सरकार के विकासात्मक एवं कल्याणकारी योजनाओं के हर पहलु को काफी नजदीक से देखा। दरभंगा से लौटते हुए अधिकारियों ने स्वीकार किया कि जिले में जिस तरह से ग्रामीण प्रवेश में उन्होने अध्ययन किया है। लोगों व अधिकारियों का जो सहयोंग उन्हें मिला वे उसे हमेशा याद रखेंगे। यह भी कहा कि इस अनुभव का लाभ नौकरी में आने के बाद काफी मिलेगा। वैसे इन प्रशिक्षु अधिकारियों को पांच ग्रुपों में बाट कर प्रशिक्षत कराया गया था। प्रत्येक ग्रुप में 6 प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी शामिल थे।

 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS