बिहार
महाशिवरात्रि के मौके पर मेहदार गांव में जुटेंगे लाखों शिव भक्त
By Deshwani | Publish Date: 16/2/2017 5:48:22 PM
महाशिवरात्रि के मौके पर मेहदार गांव में जुटेंगे लाखों शिव भक्त

सीवान। बिहार में सीवान जिले के दक्षिणांचल में सिसवन प्रखंड के अंतर्गत मेहदार गांव में अंतरराष्ट्रीय महत्व का धनी शिव मंदिर है । कहा जाता है कि करीब सात सौ वर्ष पूर्व नेपाल के राजा महेन्द्र ने इसका निर्माण कराया था। इसलिए इसे महेन्द्र नाथ मंदिर भी कहा जाता है। यहां स्थित गट्टे के पानी से राजा का कुष्ठ रोग ठीक हुआ था, तब राजा ने मंदिर बनवाया था व 551 बीघे के पोखर खुदवाई थी। पोखरे में कमल पौधे की अधिकता के चलते इसे कमलदाह सरोवर भी कहा जाता है। 1980 के दशक में तत्कालीन डीएम राम भजन सिंह, व्यवसायी छठूलाल मारवाड़ी व समाजसेवी गौतम सिंह ने मंदिर को आकर्षक रूप दिया। यहां न सिर्फ उत्तर प्रदेश बल्कि झारखंड व मध्य प्रदेश के श्रद्धालु आते हैं। साथ ही नेपाल के शिव भक्तों का भी आना -जाना लगा रहता है ।
यहां प्रति वर्ष महाशिरात्रि व सावन महीने में शिव भक्तों की बड़ी भीड़ जुटती है। सूबे के पर्यटन विभाग ने मंदिर के विकास के लिए करीब 12 करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत की है। परन्तु उचित रखरखाव के अभाव में मंदिर का समुचित विकास नहीं हो सका है। पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र व सीएम नीतीश कुमार इस मंदिर मे माथा टेक चुके हैं| फिलहाल मंदिर की व्यवस्था महेन्द्र नाथ धार्मिक न्यास परिषद व मंदिर के प्रधान पुजारी तारकेश्वर उपाध्याय के जिम्मे है । इस मंदिर का शिव विधान आदित्य है मंदिर परिसर मे राम लक्ष्मण, सीता, बजरंग वली, माता पार्वती, काली माता, भैरव, भगवान आशुतोष का भी मंदिर है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS