ब्रेकिंग न्यूज़
उपमुख्‍यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा– फिजियोथेरेपी है समय की जरूरतदिल्ली मेट्रो की ग्रे-लाइन पर नजफगढ़-ढांसा बस स्टैंड खंड का उद्घाटन किया गयाप्रधानमंत्री 18 सितंबर को गोवा में स्वास्थ्य कर्मचारियों और कोविड टीकाकरण कार्यक्रम के लाभार्थियों से संवाद करेंगेपूर्वी चम्पारण के एसपी नवीन चन्द्र झा ने रक्सौल नगर थाने का किया औचक निरीक्षण, दिए निर्देशप्रधानमंत्री ने गुजरात सरकार में मंत्री पद की शपथ लेने वाले सभी लोगों को बधाई दीकेंद्रीय कृषि मंत्रालय ने किया सभी संघ राज्य क्षेत्रों का सम्मेलनरक्सौल: स्वर्ण व्यवसाई हत्याकांड में मृतक कपिलदेव सर्राफ के ब्यान पर एफआईआर दर्ज, छापेमारी जारीउपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और लोकसभा अध्यक्ष संयुक्त रूप से 15 सितंबर को ‘संसद टीवी’ का करेंगे शुभारंभ
बिहार
रक्सौल स्वर्ण व्यवसायी दोहरी हत्याकांड के विरोध में सर्राफा मंडी में लटके ताले, स्वर्ण व्यवसायियों ने किया विरोध प्रदर्शन
By Deshwani | Publish Date: 14/9/2021 7:24:13 PM
रक्सौल स्वर्ण व्यवसायी दोहरी हत्याकांड के विरोध में सर्राफा मंडी में लटके ताले, स्वर्ण व्यवसायियों ने किया विरोध प्रदर्शन

गत वर्ष भी एक स्वर्ण कारोबारी युवक की हुई थी हत्या

अविलम्ब आरोपियों की गिरफ्तारी व सुरक्षा की हुई मांग



रक्सौल। अनिल कुमार। स्वर्ण व्यवसायी हत्याकांड के विरोध मे  शहर के सभी  स्वर्ण व्यवसायियों ने अपनी अपनी दुकानें बंद कर विरोध किया और स्थानीय पुलिस प्रशासन के खिलाफ काफी आक्रोश व्यक्त किया। 





जिस कारण मंगलवार को दिनभर रक्सौल के सर्राफा बाजार में ताले लटक रहे हैं और सन्नाटा पसरा रहा है। सर्राफा  संघ के अध्यक्ष माधव लाल प्रसाद सर्राफ के नेतृत्व में सभी आभुषण दुकानदारों ने अपनी दुकानों को बंद कर विरोध प्रकट किया तथा प्रशासन पर प्रश्न चिन्ह खड़ा करते हुए सरकार से सुरक्षा की मांग किया है। अध्यक्ष  सर्राफ ने बताया कि मृतक स्वर्ण व्यवसायी कपिलदेव सर्राफ सोमवार की संध्या 6 बजे अपनी दुकान को बंद कर अपने घर परसौना तपसी जा रहे थे। 





इसी बीच बेखौफ अपराधियों ने उनके पौत्र और उन्हें भेलाही के डिबनी घाट पुल के पास गोली मार दिया जिसमें पौत्र चंदन की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी और  कपिलदेव सर्राफ गंभीर रुप से घायल हो गए जो ईलाज के दौरान जिंदगी की जंग हार गये।  उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि गत वर्ष दीपावली के समय स्वर्ण-चांदी आभूषण कारीगर मुकेश की भी हत्या आदापुर नहर रोड में कर दी गयी थी। जिसमें आज तक पुलिस आरोपी को नही पकड़ पाई। लगभग नव वर्ष पूर्व कपिलदेव सर्राफ के बड़े पुत्र की भी हत्या भी जमीनी विवाद मे ही हो चूकी है। 




अब फिर एक बार इस दोहरी हत्याकांड ने हमारी नींद उड़ा दी गया। सर्राफा मंडी बन्द करने के बाद व्यवसाइयों ने सरकार से अपनी सुरक्षा की मांग करते हुए आरोपियों को अविलंब गिरफ्तार करने की मांग किया है। मौके पर प्रदीप सर्राफ, कन्हैया सर्राफ, उमेश सर्राफ, हरिन्द्र सर्राफ, दीपू सर्राफ, सुमन सर्राफ, मुकेश सर्राफ, आरजू सर्राफ, प्रभात सर्राफ, आनंद सर्राफ व प्रदीप सर्राफ आदि मौजूद थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS