ब्रेकिंग न्यूज़
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वाल्मीकिनगर से बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा कियाडंकन अस्पताल रक्सौल में कोविड-19 का जाँच और उपचार शुरुकोरोना वायरस: जिला पदाधिकारी ने संक्रमित मरीजों के निवास स्थानों को कंटेन्मेंट जोन बनाने दिया निर्देशरक्सौल: प्रखंड प्रमुख संजीव कुमार सिन्हा ऊर्फ मुन्ना सिन्हा के असामायिक निधन पर श्रधांजलि सभा का किया गया आयोजनप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए किया भूमि पूजन, पूरे देश में जश्न का माहौलपश्चिम चंपारण: सरकार के प्रतिबंध के बावजूद बालू का अवैध उत्खनन जारीराधा मोहन सिंह ने कहा- राम मंदिर की नींव पर रखी जाने वाली प्रत्येक ईंट राष्ट्र गौरव को शिखर की ओर ले जाएगीबीरगंज में नेपाल पुलिस ने छापेमारी कर तस्करी के 6 भैंस के साथ तीन लोगों को किया गिरफ्तार
बिहार
पश्चिम चंपारण: कोविड-19 जिला कमांड एंड कंट्रोल सह-टेलीमेडिसिन सेंटर का डीएम ने किया औचक निरीक्षण
By Deshwani | Publish Date: 31/7/2020 9:43:11 PM
पश्चिम चंपारण: कोविड-19 जिला कमांड एंड कंट्रोल सह-टेलीमेडिसिन सेंटर का डीएम ने किया औचक निरीक्षण

बेतिया। अवधेश कुमार शर्मा। पश्चिम चंपारण जिला मुख्यालय स्थित समाहरणालय परिसर में संचालित कोविड-19 जिला कमांड एंड कंट्रोल-सह-टेलीमेडिसिन सेंटर का औचक निरिक्षण जिला पदाधिकारी कुंदन कुमार ने की। इस निरिक्षण के दौरान प्रतिनियुक्त चिकित्सक एवं कर्मियों से क्रमशः से प्राप्त हो रहे कॉल तथा स्वास्थ्य संबंधी फीडबैक की जानकारी लिया। निरीक्षण के क्रम में प्रतिनियुक्त कर्मी अनुज कुमार वर्णवाल ने  बताया कि होम आइसोलेशन में रहने वाले कुल-53 मरीजों के स्वास्थ्य का फीडबैक लिया गया है। जिसमें 09 व्यक्तियों ने फोन रिसिव नहीं किया तथा 06 लोगों के मोबाईल नंबर पर रिंग नहीं जा सका। शेष व्यक्तियों ने स्वास्थ्य सही बताया है। उन्हें किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी कोई परेशानी नहीं है। जिला पदाधिकारी ने इस कार्य की सराहना की तथा उनका उत्साहवर्धन किया। उन्होंने निदेश दिया कि सभी प्रतिनियुक्त कर्मी दिये गये दायित्वों का निवर्हन तत्परतापूर्वक करें। इसी प्रकार अन्य कर्मियों ने क्रमवार से फीडबैक की विस्तृत जानकारी डीएम को दिया। 





प्रभारी पदाधिकारी ने बताया गया कि कोविड-19 जिला कमांड एंड कंट्रोल-सह-टेलीमेडिसिन सेंटर में 25 जुलाई से 29 जुलाई तक 300 से ज्यादा व्यक्तियों ने काॅल कर समुचित चिकित्सीय परामर्श लिया है तथा 900 से ज्यादा लोगों को काॅल कर उनके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्राप्त किया, उन्हें चिकित्सीय परामर्श उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने बताया कि 30 जुलाई 2020 को 134 व्यक्तियों को काॅल किया गया। इनमें से 24 लोगों को चिकित्सीय परामर्श डाॅक्टरों की टीम ने दी है। 02 व्यक्तियों ने काॅल किया, जिन्हें चिकित्सीय परामर्श उपलब्ध कराया गया है। प्रभारी पदाधिकारी द्वारा बताया गया टेलीमेडिसिन सेंटर में आयुष चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति भी की गयी है। आयुष चिकित्सको ने आयुष मंत्रालय के गाइडलाइन के अनुरूप चिकित्सीय परामर्श भी दिया है। जिला पदाधिकारी ने कहा कि होम आइसोलेशन में रहने वाले एक-एक व्यक्ति पर ध्यान देकर उनकी जान बचानी है। नियमानुसार सही तरीके से उनसे फीडबैक लेते रहें तथा आवश्यकतानुसार वरीय पदाधिकारियों को ससमय सूचित करें, जिससे आपात स्थिति में होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्तियों को समुचित चिकित्सीय सेवा उपलब्ध करायी जा सके। 




डीएम ने सिविल सर्जन को निदेश दिया कि सिविल सर्जन को कोविड-19 जिला कमांड एंड कंट्रोल-सह-टेलीमेडिसिन सेंटर में पर्याप्त संख्या में एंबुलेंस की उपलब्धता सुनिश्चित रखे, जिससे आपात स्थिति में मरीजों को बेहतर चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध करायी जा सके। टेलीमेडिसिन सेंन्टर में एक टाॅल फ्री नंबर अविलंब प्राप्त कर इंस्टाॅल कराना सुनिश्चित करायें। जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी को निदेश दिया है कि उक्त नंबरों का व्यापक प्रचार-प्रसार विभिन्न माध्यमों से कराना सुनिश्चित करें, जिससे होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पाॅजिटिव मरीज इस सेंटर का लाभ उठा सकें। जिला पदाधिकारी ने कंट्रोल रूम में प्रतिनियुक्त सभी कर्मियों को फीडबैक लेने तथा काॅल्स प्राप्त करने के दौरान पूरी तरह शांतिपूर्वक एवं धैर्यशील रहकर पूरी मधुरता के साथ व्यवहार करने की नसीहत भी दिया। कंट्रोल रूम के प्रभारी पदाधिकारी को भी कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS