ब्रेकिंग न्यूज़
समस्तीपुर : लद्दाख में शहीद अमन की विधवा को मिली नौकरी, डीएम ने दिया नियुक्ति पत्रसमस्तीपुर : समस्तीपुर में कोरोना से युवा व्यवसायी की मौत, छह लोगों की हो चुकी है अबतक मौतमोतिहारी की छतौनी पुलिस ने लकड़ी लदे ट्रक में छुपाकर रखी भारी मात्रा में शराब जब्त की, 6 गिरफ्तार, झखिया में देनी थी डिलेवरीमोतिहारी के कल्याणपुर में पूर्व प्रमुख के पति की रड व चाकू से गोदकर हत्या, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रकाश अस्थाना के छोटे भाई जेपी अस्थाना भी गंभीर घायलसमस्तीपुर: आपसी विवाद में चली गोली से महिला सहित दो जख्मी, गंभीर स्थिति में रेफरअभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जांच की मांग को लेकर राज्‍यभर में हुआ प्रदर्शनमोतिहारी में एनएच 28 पर जय माता दी बस की चपेट में आए दो लोग, वाटगंज के मेडिकल प्रैक्टिसनर व भतीजे की मौत, बारिश में छतरी लगाकर राजमार्ग जाममोतिहारी के मधुबन में बारात में चली गोली, गोढ़वा के युवक की मौत, आर्म्स के साथ एक गिरफ्तार
बिहार
नाला में कचरा डालने से करें परहेज, नाला में जाकर कचरा निकालने वाले मजदूर नहीं मिल रहे: गरिमादेवी
By Deshwani | Publish Date: 28/5/2020 12:39:41 AM
नाला में कचरा डालने से करें परहेज, नाला में जाकर कचरा निकालने वाले मजदूर नहीं मिल रहे: गरिमादेवी

बेतिया अवधेश कुमार शर्मा। पश्चिम चम्पारण जिला मुख्यालय बेतिया स्थित नगर परिषद की सभापति गरिमादेवी सिकारिया ने कहा कि जेसीबी व पोकलेन नहीं पहुंच पाने वाले कई नाला में कचरा भरा है। 

 
 
 
नगर परिषद क्षेत्र में नाला में घुसकर कचरा निकालने वाले मैनुअल मजदूरों की कमी के कारण नाला से कचरा निकालना कठिन हो गया है। कुछ मुख्य नाला में मैनुअल सफाई हो रही है, परन्तु सभी नालों की मैनुअली उड़ाही नहीं होने पर आगामी बरसात में शहर में जगह जगह जल जमाव का खतरा है। सभापति के अनुसार इस समस्या से शहर को बचाने में हमारे गणमान्य नागरिकों का महत्वपूर्ण योगदान हैं। उन्होंने कहा कि नाले-नालियों में कचरा फेकना कानूनन अपराध होने के बावजूद शहर के लोग इसके प्रति सजग नहीं हैं। 
 
 
 
उन्हें यह समझना चाहिए कि शहर तमाम पढ़े लिखे और खुद को जिम्मेदार व समझदार मानने वाले लोगों के इस गैरकानूनी और असभ्य कार्य का खामियाजा अनपढ़ या कम पढे लिखे सफाईकर्मियो को भुगतना पड़ता है। सभापति श्रीमती सिकारिया ने कहा कि अगर लोगों के व्यवहार में  सुधार नहीं आएगा तो नप प्रशासन टीम गठित कर, वैसे लोगों को दण्डित करने की कार्रवाई को बाध्य होगा। सभापति गरिमादेवी सिकारिया के अनुसार नप ने स्वच्छता स्लोगनों के माध्यम से  कचरा नालों या यत्र तत्र ना फेकने के लिए लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS