ब्रेकिंग न्यूज़
झारखंड में बिहार सहित अन्य राज्यों से आनेवाली बस की एंट्री नहीं, निजी वाहनों को भी लेना होगा ई-पासमोतिहारी के कोटवा में ट्रक व कार में भीषण टक्कर, एक की मौत चार अन्य घायल, दो की स्थित गंभीरबिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोज
बेतिया
बेतिया सभापति की तबियत खराब, अविश्वास पर ग्रहण
By Deshwani | Publish Date: 12/3/2020 9:20:40 AM
बेतिया सभापति की तबियत खराब, अविश्वास पर ग्रहण

बेतिया । नगर परिषद की सभापति गरिमा सिकारिया की तबियत खराब हो गयी है। वे अपने मायके बक्सर में है। इसकी जानकारी सभापति ने गुरुवार को नप कार्यपालक पदाधिकारी विजय कुमार उपाध्याय को पत्र भेजकर दी है।

पत्र में बताया है कि वे मायके बक्सर आयी थी। जहां होली के बाद उनकी तबियत खराब हो गयी है। अस्वस्थता के कारण मैं लगभग 10 दिनों तक वे बेतिया नहीं आ पाएंंगी। जिसके चलते वे कार्यालय नहीं आएंगी। विदित हो कि विगत 26 फरवरी को नगर परिषद के 39 में से 15 पार्षदों ने सभापति पर अविश्वास लगाने के लिये नप कार्यपालक पदाधिकारी को आवेदन सौंपा था।

नप कार्यपालक पदाधिकारी ने बताया कि सभापति का पत्र मिला है। जिसमें उन्होंने अस्वस्थ होने के कारण लगभग 10 दिनों तक कार्यालय से अनुपस्थित रहने की बात कही है। उनके आने के बाद ही अविश्वास की प्रक्रिया आगे बढ़ायी जाए जा सकती है। सूत्रों के अनुसार नगर पालिका अधिनियम के तहत अविश्वास का प्रस्ताव सभापति को ही रिसिव कराना है। लेकिन अभी तक प्रस्ताव सभापति को विरोधी खेमे ने रिसिव नहीं कराया है।

इधर सभापति की तबियत खराब होने से अविश्वास के मामले पर ग्रहण लग गया है, क्योंंकि अविश्वास का आवेदन मिलने के सात दिनों के भीतर यह सुनिश्चित करना होता है कि आगामी 15 दिनों में अविश्वास प्रस्ताव पर बहस को लेकर बैठक आयोजित हो। लेकिन अब यह मामला कुछ दिनों के लिए टल गया है।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS