ब्रेकिंग न्यूज़
पश्चिम चम्पारण के बगहा में नक्सली-एसटीएफ मुठभेड़ में 4 नक्सली हुए ढेरसमस्तीपुर : बेखौफ अपराधियों ने घर में घुस युवक को गोली मार की हत्यानेपाल पुलिस ने गांजा के साथ एक युवक को किया गिरफ्तारसमस्तीपुर : तीन बैंक अधिकारी सहित 21 कोरोना संक्रमित, संख्या पहुंची 380मोतिहारी के चकिया में एक ही मुहल्ले के पांच किशोरों की डूबकर हुई मौत, एनडीआरफ की आठ सदस्यीय टीम ने शवों को ढूढ़ा, मातमकोरोना बीमारी से जंग के लिए नहीं उठे उचित कदम : शरद यादवप्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना को नवंबर तक बढाने की मंत्रिमंडल ने दी मंजूरीराज्यों के चिकित्सकों को एम्स विशेषज्ञ कोविड-19 के बारे में मार्गदर्शन उपलब्ध कराएंगे
बिहार
सरस्वती विद्यामंदिर में दो दिवसीय संस्कृति महोत्सव में विजेता हुए पुरस्कृत
By Deshwani | Publish Date: 15/10/2019 8:17:57 PM
सरस्वती विद्यामंदिर में दो दिवसीय संस्कृति महोत्सव में विजेता हुए पुरस्कृत

अवधेश कुमार शर्मा
बेतिया(पश्चिम चम्पारण) सरस्वती विद्या मंदिर पुरानी बाजार नरकटियागंज में दो दिवसीय संस्कृति महोत्सव का समापन हो गया। इस समापन कार्यक्रम में सभी विजेता भैया बहनों को पुरस्कृत किया गया। 
 
समापन कार्यक्रम में भैया बहनों को संबोधित करते हुए प्रदेश सचिव नकुल कुमार शर्मा ने बताया यह जो परिणाम है केवल बच्चों का परिणाम नहीं है बल्कि विद्यालय का भी परिणाम है। हमें यह विचार करना चाहिए कि हम अपने आप को कहाँ पाते है। उन्होंने विजेता प्रतिभागियों को आगे भी अपनी विजय यात्रा को जारी रखने की शुभकामनाएं दीं। जो प्रतिभागी किसी कारण से पिछड़ गए, उन्हें आगे के लिए और कठिन परिश्रम करने का आह्वान किया।
 कार्यक्रम का विस्तृत वृत्त सीवान के विभाग निरीक्षक मिथिलेश कुमार सिंह ने प्रस्तुत किया। पुरस्कार वितरण की घोषणा अनिल कुमार राम ने की। धन्यवाद भाषण चम्पारण विभाग के विभाग निरीक्षक उमाशंकर पोद्दार ने किया।
 ईश्वर पर प्रधान आचार्य नागेन्द्रनाथ तिवारी विजेताओं को बधाई दिया और उज्ज्वल भविष्यi की मंगलकामनाएं दी। विद्यालय में आयोजित प्रतियोगिता में कुल 459 भैया बहनों ने प्रतिभागिता सुनिश्चित किया। इस अवसर पर रा. स्व. संघ  विभाग कार्यवाह सुधीर कुमार, विद्यालय के अध्यक्ष वर्मा प्रसाद, मंत्री सुरेन्द्र जायसवाल,  कोषाध्यक्ष आशीष अग्रवाल, वन्दना, आलोक, विनोद, सुरेंद्र प्रताप,  दिलीप, अशोक,, नीता, किरण, रूपेश, कलाधर व सभी आचार्य की सराहनीय भूमिका रही। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS