ब्रेकिंग न्यूज़
राजस्थान: साथ नजर आए सचिन पायलट और अशोक गहलोत, विधायक दल की बैठक कलराजस्थान विधानसभा चुनाव में राजकुमार शर्मा ने लगाई हैट्रिकआखिरकार सैफ अली खान ने देख ही ली सारा की 'केदारनाथ', करीना कपूर देंगी पार्टीछत्तीसगढ़: बीजेपी के हारते ही मुख्यमंत्री रमन सिंह के प्रमुख सचिव ने ली लंबी छुट्टीउपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट कर राहुल गांधी को दी बधाई, प्रधानमंत्री मोदी पर बोला हमलाभारत और रूस के बीच युद्धाभ्यास अविन्द्रा हुआ शुरूतीन राज्यों के रुझान में कांग्रेस को बढ़त, खुशी से झूमे कांग्रेस-आरजेडी कार्यकर्तावाजपेयी, अनंत, चटर्जी को श्रद्धांजलि देने के बाद दोनों सदनों की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित
औरंगाबाद
औरंगाबाद में दंगाइयों को देखते ही गोली मारने के आदेश
By Deshwani | Publish Date: 26/3/2018 7:27:30 PM
औरंगाबाद में दंगाइयों को देखते ही गोली मारने के आदेश

 औरंगाबाद।  बिहार के औरंगाबाद में रविवार को रामनवमी को लेकर निकाले गये बाइक जुलूस के बाद भड़की हिंसा के चलते सोमवार को प्रशासन ने शहर में कर्फ्यू लगा दिया है। प्रशासन ने दंगाइयों को देखते ही गोली मारने का आदेश दिया है। बता दें कि रविवार को रामनवमी के अवसर जा रहे बाइक जुलूस पर एक गुट द्वारा की गई पत्थरबाजी में दर्जनभर लोगों के घायल होने के बाद दूसरे गुट के लोगों का आक्रोश भड़क उठा और उन्होंने सदर अस्पताल के मेन गेट पर स्थित लगभग 10 दुकानों को आग के हवाले कर दिया।

इस बीच उपद्रवियों ने कई दुकानों में जमकर तोड़फोड़ भी की. सूचना पाकर मौके पर पहुंचे डीएम और एसपी ने खुद मोर्चा संभाला और फिर उपद्रवियों को खदेड़कर मामले को शांत कराया। बाद में फायर बिग्रेड की गाड़ी मौके पर पहुंची और दुकानों में लगी आग पर काबू पाया। 
 
सोमवार को पूरे शहर को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया और जिला प्रशासन ने नगर थाना क्षेत्र में धारा 144 लगा दी। प्रशासन ने शहर में कर्फ्यू लगा दिया और दंगाई को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए है। फिलहाल उपद्रवियों की गिरफ्तारी की कार्रवाई चल रही है।
 
घायलों का हाल चाल जानने सदर अस्पताल पहुंचे स्थानीय विधायक आनंद शंकर ने मामले के जिम्मेदार उपद्रवियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने साथ ही साथ उनपर कठोर कार्रवाई करने की मांग की है। वहीं जिलाधिकारी ने शहरवासियो को अफवाह पर ध्यान नहीं देने की बात कही है और कहा है कि शहरवासियों की सुरक्षा की जिम्मेवारी जिला प्रशासन की है जिसके लिये उनकी कोशिशें जारी हैं। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS