ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी के कोटवा में सरेह में दो लोगों को घायल करने के बाद तेंदुआ घुसा एक घर में, घरवालों ने छत पर ली शरण, वाल्मीकिनगर से आ रही रेस्क्यू टीमपटना के युवाओं में प्रतिभा भरपूर : ईशान किशनरक्सौल: छापेमारी कर चावल बजार से 119 बोरा अवैध उर्वरक बरामद, दुकान सील, दुकानदार गिरफ्ताररक्सौल में आरपीएफ ने छापेमारी कर रेल टिकट किया बरामद, एक गिरफ्तारभारतीय नागरिकों के नेपाल प्रवेश पर रोक लगाने के विरोध में भारत-नेपाल सीमा के मैत्री पुल पर जमकर हुआ बवालनेपाल: देशभक्त राजभक्त समूह पर्सा ने वीरगंज महाबीर मंदिर के पास सम्मान कार्यक्रम का किया आयोजनमौसम विभाग: चक्रवाती तूफान निवार 11 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ रहाबंगलादेश: राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मोजिबुर्रहमान को श्रद्धांजलि देने के लिए कल ढाका में लगाई गई एक चित्र प्रदर्शनी
बिहार
हत्या के मामले में दारोगा को उम्रकैद
By Deshwani | Publish Date: 6/4/2017 5:51:03 PM
हत्या के मामले में दारोगा को उम्रकैद

मुजफ्फरपुर। मुजफ्फरपुर के सकरा के मुराहरलोचनपुर गांव में हुई हत्या के एक मामले में दारोगा को जिला जज की अदालत द्वारा उम्रकैद की सजा सुनाई गयी है। दारोगा हरेन्द्र कुमार सिंह पर कोर्ट ने पांच हजार का जुर्माना भी ठोका है, जिसे नहीं देने पर उसे दो माह की सजा भी भुगतनी पड़ेगी। 
19 अगस्त 2001 को सुरेन्द्र मेहता के बेटे सनत को एक कांड में गिरफ्तार करने गये दारोगा ने उसके पिता को ही गिरफ्तार कर लिया और 20 अगस्त की सुबह उनकी लाश घर के बगल में जमुआरी नदी में मिली। पुलिस ने इस कांड में कई खेल खेले। पहले पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतक का उपनाम रामसागर मेहता दर्ज करा दिया और बाद में केस को फाइनल भी कर दिया। लेकिन मृत की नर्स पत्नी जानकी देवी द्वारा विरोध दर्ज कराने पर कोर्ट के आदेश पर दोबारा छानबीन की गयी जिसमें दारोगा हरेन्द्र सिंह दोषी करार दिए गए ।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS