ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल के बारा जिला में अवैध पिस्टल के साथ एक गिरफ्तारप्रधानमंत्री की चुनावी रैली की तैयारी का जायजा लेने मोतिहारी पहुंचे बिहार चुनाव प्रभारी सह पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीससात माह लंबे इंतजार के बाद खुला भारत-नेपाल बॉर्डररक्सौल: पनटोका कैम्प में पुलिस स्मृति दिवस मनाया गयारक्सौल में रेल पुलिस ने 18 बोतल शराब रेलवे पोखरा के पास से किया बरामदप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा-जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं, के मंत्र का पूरी तरह पालन करना आवश्‍यकरक्सौल: पुरेन्दरा पंचायत के मुखिया ने हथियार से प्रहार कर एक व्यक्ति को गंभीर रुप से किया घायलमोतिहारी सेन्ट्रल बैंक रिजनल कार्यालय में भीषण आग, 4 घंटे के मशक्कत के बाद रात 8 बजे आग पर काबू
राज्य
केरल के एर्नाकुलम की खदान में भयंकर विस्फोट, दो मजदूरों की मौत
By Deshwani | Publish Date: 21/9/2020 3:13:30 PM
केरल के एर्नाकुलम की खदान में भयंकर विस्फोट, दो मजदूरों की मौत

एर्नाकुलम। सोमवार को एर्नाकुलम के मलयूर में एक खदान में विस्फोट होने से दो लोगों की मृत्यु हो गई है। यह हादसा आज तड़के सुबह साढ़े तीन बजे हुआ। पुलिस ने जानकारी दी है कि यह विस्फोट एक बिल्डिंग में हुआ है जहां चट्टानों को तोड़ने के लिए कुछ विस्फोटक सामान स्टोर करके रखा गया था। मृतक तमिलनाडु और कर्नाटक के रहने वाले हैं। इस हादसे में मारे गए लोगों की पहचान पेरियानान और डी नागा के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि पेरियानान तमिलनाडु का रहने वाला है जबकि डी नागा कर्नाटक से है।

 
उत्तराखंड में सिलेंडर में लगी आग 
उत्तराखंड के हल्द्वानी के दमुवाढूंगा में दो अलग-अलग मामलों में खाना बनाने के दौरान भड़की आग से छह लोग झुलस गए हैं। निजी अस्पताल व एसटीएच में उनका उपचार चल रहा है। जिसमें से एक की हालत गंभीर बनी हुई है। चौकी इंचार्ज देवेंद्र बिष्ट ने बताया कि कुमाऊं कॉलोनी जवाहर ज्योति दमुवाढूंगा निवासी जानकी देवी अपनी बहू स्वाती संग देर शाम खाना बना रही थी। इस बीच अचानक सिलेंडर से रिसाव हुआ और आग लग गई। पत्नी व मां को झुलसता देख बेटा सुरेंद्र बचाने को दौड़ पड़ा। जिस वजह से तीनों ही चपेट में आ गए।  गंभीर हालत में तीनों को नैनीताल रोड स्थित अस्पताल में लाया गया है। सुरेंद्र की हालत ज्यादा गंभीर है।
 
वहीं, दूसरा मामला दमुवाढूंगा तल्ला का है। याहां सुबह एक महिला खाना बनाने के लिए रसोई में पहुंची। इस बीच माचिस जलाते ही सिलेंडर में आग भड़क गई। निर्मला को बचाने के लिए पति दीवान लाल और 13 साल का बेटा सुनील भी भागकर पहुंचा। जिस वजह से तीनों आग की चपेट में आ गए। फिलहाल तीनों का उपचार एसटीएच में चल रहा है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS