ब्रेकिंग न्यूज़
भाजपा नेता रवि किशन ने शाहीनबाग़ के विरोध को बताया विपक्ष की साजिश, कहा - 500 रुपये लेकर महिलाएं कर रहीं प्रदर्शनपरीक्षा में अच्‍छे अंक ही सबकुछ नहीं - मोदी, परीक्षा पे चर्चा-2020 कार्यक्रम में देश भर के दो हजार से अधिक विद्यार्थी ले रहे भागजम्‍मू कश्‍मीर के शोपियां जिले में 3 आतंकवादी ढेर, सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ जारीतहकीकात बाद दें किराया, मोतिहारी के अंबिकानगर लॉज से पटना से अपहृत छात्र मुक्त, प्रिंस पाण्डेय समेत 5 गिरफ्तारमोतिहारी की सांस्कृतिक भूमि को उर्वरा बनानेवाले पूर्व वीसी डॉ वीरेन्द्रनाथ पाण्डेय का पटना में निधनकेन्द्र सरकार के गृह राज्यंत्री, बिहार के भाजपा अध्यक्ष व विधायक साथ रक्सौल में 47 वी बटालियन आउट पोस्ट का जायजा लियाबेतिया में नाजायज संबंध के विरोध पर पति ने पत्नी को दिया तलाकमोतिहारी के सुगौली में परिज सुबह जगे तो देखा पति व गर्भवती पत्नी की गला रेत कर हत्या, फौरेंसिक टीम पहुंची, खून से सना चाकू बरामद, एसआईटी गठित
राज्य
कुशीनगर में गठित अभियंताओं की टीम ने अमवा खास बांध से संबंधित परियोजनाओं किया भौतिक सत्यापन
By Deshwani | Publish Date: 7/12/2019 4:31:34 PM
कुशीनगर में गठित अभियंताओं की टीम ने अमवा खास बांध से संबंधित परियोजनाओं किया भौतिक सत्यापन

कुशीनगर भानु तिवारी। जिले में दो दिसंबर को मुख्यमंत्री के निर्देश पर गठित अभियंताओं की टीम ने शनिवार को तमकुहीराज तहसील क्षेत्र के एपी व अमवाखास बांध से संबंधित परियोजनाओं का भौतिक सत्यापन किया। शारदा बैराज बरेली के मुख्य अभियंता प्रवीण कुमार के नेतृत्व में सिचाई कार्य मंडल सीतापुर के अधीक्षण अभियंता प्रभाकर प्रसाद, अधीक्षण अभियंता गोरखपुर केके राय, अधिशासी अभियंता भरत राम, सहायक अभियंता श्रवण कुमार प्रियदर्शी ने एपी बांध के किमी जीरो पिपराघाट से किमी 14.500 अहिरौलीदान तक परियोजनाओं का सत्यापन किया। 

 
 
मुख्य अभियंता ने कहा कि नदी की स्थिति काफी भयावह है। यहां बरसात पूर्व सभी परियोजनाओं पर कार्य कराना नितांत आवश्यक है। बताया कि अग्रिम कार्रवाई के लिए सत्यापन की रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी। भाजपा किसान मोर्चा के जिला मंत्री जेके सिंह ने मुख्य अभियंता को अवगत कराया कि विगत कई वर्षों से परियोजनाओं पर कार्य न होने से बांध पर खतरा आ जाता है। अवर अभियंता चंद्र प्रकाश, रमेश धर दुबे, सुनील यादव, राकेश कुमार मौर्या आदि मौजूद रहे। इसी क्रम में अभियंताओं की टीम ने अमवाखास बांध का भी स्थलीय सत्यापन किया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS