ब्रेकिंग न्यूज़
जीपीएफ पर सरकार ने घटाई ब्याज दर, जानिए अब कितना मिलेगा इंटरेस्टमार्क एस्पर होंगे अमेरिका के नए रक्षा मंत्रीउप्र के एक लाख सहायक शिक्षकों बड़ी राहत, सुप्रीम कोर्ट ने पलटा इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसलासुपर- 30 के अभिनेता ऋतिक रोशन से मिले उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और आनंद कुमारपूर्व प्रधानमंत्री स्व. चंद्रशेखर के पुत्र नीरज शेखर भाजपा में शामिल, अमित शाह से किया था संपर्कविश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला कल से, अर्घा से जलार्पण करेंगे कांवरियेयूपी भाजपा को मिला नया अध्यक्ष, स्वतंत्र देव सिंह को मिली जिम्मेदारीकर्नाटक संकट: बागी विधायकों की याचिका पर फैसला सुरक्षित, सर्वोच्च न्यायालय कल सुनाएगा फैसला
राज्य
मायावती ने आज ट्वीट करके कहा- 'एक देश-एक चुनाव' की बात मात्र छलावा, बैठक में नहीं होंगी शामिल
By Deshwani | Publish Date: 19/6/2019 2:18:31 PM
मायावती ने आज ट्वीट करके कहा- 'एक देश-एक चुनाव' की बात मात्र छलावा, बैठक में नहीं होंगी शामिल

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 'एक देश, एक चुनाव' पर सभी राजनीतिक पार्टियों की बैठक बुलाई है। बैठक में बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती शामिल नहीं होंगी। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने 'एक देश-एक चुनाव' मुद्दे पर अपना विरोध जताया है। उन्होंने आज ट्वीट करके कहा कि 'एक देश-एक चुनाव' की बात छलावा है। 

 
उन्होंने कहा कि देश में एक चुनाव की बहस वास्तव में गरीबी, महंगाई, बेरोजबारी, बढ़ती हिंसा जैसी ज्वलंत राष्ट्रीय समस्याओं से ध्यान बांटने का प्रयास व छलावा मात्र है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी लोकतांत्रिक देश में चुनाव कभी कोई समस्या नहीं हो सकती है। न ही चुनाव को कभी धन के व्यय-अपव्यय से तौलना उचित है। 
 
मायावती ने ईवीएम पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बैलेट पेपर के बजाए ईवीएम के माध्यम से चुनाव की सरकारी जिद से देश के लोकतंत्र और संविधान को असली खतरा है। ईवीएम के प्रति जनता का विश्वास चिंताजनक स्तर तक घट गया है। ऐसे में इस घातक समस्या पर विचार करने के लिए अगर आज की बैठक बुलाई गई होती तो मैं अवश्य ही उसमें शामिल होती।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS