ब्रेकिंग न्यूज़
पूर्व मंत्री यशवंत सिन्हा को श्रीनगर एयरपोर्ट से भेजा गया वापस, अन्य सदस्यों को अनुमति मिलीगंगा के जलस्तर में लगातार वृद्धि: कई गांवों पर बाढ़ का खतरा मंडराया, इलाके के लोग सहमेसंजीदा अभिनय के लिये मशहूर विद्या बालन की फिल्म ‘शकुंतला देवी’ का टीजर रिलीजमुख्यमंत्री योगी ने बलिया में बाढ़ग्रस्त क्षेत्र का किया हवाई सर्वेक्षण, बाढ़ पीड़ितों को दी सामग्रीप्रधानमंत्री मोदी ने लिया मां हीरा बेन का आशीर्वाद, साथ किया भोजनमहादलित बस्ती भंटाडीह में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन, 437 मरीजों का हुआ स्वास्थ्य परीक्षणचतरा में पुलिस ने टीपीसी के सबजोनल कमांडर शेखर गंझू को दबोचा, 5 लाख का था इनामबिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने पितरों की आत्मा के लिए किया पिंडदान
राज्य
मुस्लिम वोटर्स को लेकर केजरीवाल के बयान पर शीला दीक्षित का पलटवार
By Deshwani | Publish Date: 18/5/2019 3:10:35 PM
मुस्लिम वोटर्स को लेकर केजरीवाल के बयान पर शीला दीक्षित का पलटवार

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के परिणाम 23 मई को आने वाले हैं। लेकिन उससे पहले ही दिल्ली की सियासत में गर्मी बढ़ गई है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के मुस्लिम वोटरों वाले बयान ने सियासी गलियारे में तूल पकड़ लिया है।

 
केजरीवाल के इस बयान पर अब दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व सीएम शीला दीक्षित  ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। शीला दीक्षित ने सीएम अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है। शीला ने कहा, ‘मैं नहीं जानती कि वह क्या कहने की कोशिश कर रहे हैं। सभी को वोट देने का अधिकार है, कोई भी महिला या पुरुष किसी भी पार्टी को वोट दे सकता है। दिल्ली के लोग उनकी केजरीवाल सरकार के मॉडल को ना ही समझते हैं और ना पसंद करते हैं।
 
शीला दीक्षित ने कहा कि दिल्ली के लोग न तो इनका गर्वनेंस मॉडल समझ पाए हैं, न ही लोग इसे पसंद करते हैं।' शीला दीक्षित ने इससे पहले भी केजरीवाल पर ट्विटर के जरिए निशाना साधा था। उन्होंने केजरीवाल पर उनकी सेहत को लेकर अफवाह फैलाने का आरोप लगाया था।
 
बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा कि आखिरी वक्त पर आम आदमी पार्टी का सारा वोट कांग्रेस को शिफ्ट हो गया। जब उनसे पूछा गया कि उनकी पार्टी को दिल्ली में कितनी सीटों पर जीत मिलेगी? तो उन्होंने कहा, 'देखिए क्या होता है। दरअसल चुनाव के 48 घंटे पहले तक हमें लग रहा था कि सातों सीट पर आम आदमी पार्टी को जीत मिलेगी, लेकिन आखिरी लम्हों पर सारा का सारा वोट कांग्रेस को चला गया।
 
ज्ञात हो कि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को सभी सात सीटों पर करारी हार का सामना करना पड़ा था। इस बार केजरीवाल की पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन की कोशिश तो जरूर की लेकिन आखिरी लम्हों तक बात नहीं बनी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS