ब्रेकिंग न्यूज़
शीला दीक्षित के निधन पर राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित अन्य नेताओं ने जताया शोकदिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन, कई दिनों से थीं बीमारराष्ट्रपति ने उत्तर प्रदेश-बिहार सहित छह राज्यों के राज्यपाल किए नियुक्त, बिहार के राज्यपाल बने फागु चौहानचोटिल मुर्तजा श्रीलंका के खिलाफ एकदिनी श्रृंखला से बाहर, तमीम इकबाल टीम का संभालेंगे कमानअल्जीरिया ने जीता अफ्रीका कप ऑफ नेशंस का खिताब, फाइनल में सेनेगल को दी मातब्रिटिश ऑयल टैंकर पर ईरान ने किया कब्जा, 23 क्रू मेंबर में 18 भारतीय भी शामिलरक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पहुंचे द्रास, करगिल युद्ध स्मारक में शहीद जवानों को दी श्रद्धाजंलिसोनभद्र हत्याकांड: पीड़ितों से मिलीं प्रियंका गांधी, गले लगकर रो पड़ीं महिलाएं
राज्य
प्रज्ञा ठाकुर मामले को लेकर मायावती का चुनाव आयोग पर हमला, कहा- नामांकन रद्द होना चाहिए
By Deshwani | Publish Date: 22/4/2019 12:58:03 PM
प्रज्ञा ठाकुर मामले को लेकर मायावती का चुनाव आयोग पर हमला, कहा- नामांकन रद्द होना चाहिए

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती ने चुनाव आयोग पर निष्पक्षता से काम न करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि यह लोकतंत्र केे लिए बहुत बड़ी चिंता की बात है। मायावती ने आज सुबह एक ट्वीट कर कहा है कि मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी साध्वी प्रज्ञा को चुनाव आयोग सिर्फ नोटिस जारी कर रहा है, जबकि उनका नामांकन रद्द होना चाहिए।

 
बसपा प्रमुख मायावती ने आज सुबह दो ट्वीट किये। पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा ‘भोपाल से भाजपा प्रत्याशी व माले गांव ब्लास्ट के आरोपी साध्वी प्रज्ञा का दावा है कि वे धर्मयुद्ध लड़ रही हैं। यही भाजपा/आरएसएस का असली चेहरा जो लगातार बेनकाब हो रहा है लेकिन आयोग केवल नोटिसें ही क्यों जारी कर रहा है व भाजपा रत्न का नामांकन क्यों नहीं रद्द कर रहा है।’
 
उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा है ‘मीडिया में जबरद्स्त आलोचनाओं के बावजूद चुनाव आयोग अगर जनसंतोष के मुताबिक निष्पक्षता से काम नहीं कर रहा है तो यह देश के लोकतंत्र के लिए बड़ी चिंता की बात है व इस गिरावट के लिए असली जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि बीजेपी व पीएम मोदी हैं, जो गंभीर चुनावी आरोपों से घिरे हैं।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS