राज्य
बाइक चोर निकले डांस गुरु और चेले, 100 से ज्यादा गाड़ियां को बनाया निशाना
By Deshwani | Publish Date: 21/1/2019 12:05:15 PM
बाइक चोर निकले डांस गुरु और चेले, 100 से ज्यादा गाड़ियां को बनाया निशाना

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने डांस अकादमी चलाने वाले एक डांस टीचर और स्टूडेंट को देर रात गिरफ्तार किया है। दिल्ली पुलिस को इस डांस, स्टूडेंट के इस ग्रुप के पास से लगभग 23 से ज्यादा गाड़ियां बरामद हुई है। इनका तीसरा साथी भी पकड़ा गया जो मेरठ का रहने वाला है।

 
दक्षिणी पूर्वी दिल्ली के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल के मुताबिक 15 जनवरी को एक सूचना के बाद पुल प्रह्लादपुर इलाके से 22 साल के शुभम और 20 साल के सूरज को पकड़ा गया है। दोनों जिस बाइक पर थे वो भी चोरी की थी। पूछताछ में दोनों ने बताया कि वो अपने एक और साथी दीपक कश्यप के साथ दक्षिणी और दक्षिणी पूर्वी दिल्ली से बाइक चोरी करते हैं। उसके बाद गाजियाबाद से दीपक को भी गिरफ्तार किया गया। तीनों ने अब तक 100 से ज्यादा बाइक चोरी की है। गिरफ्तारी के बाद इस बात का खुलासा हुआ कि चोर बाइक को मेरठ में 5000 रुपए में बेच देते थे।
 
 
पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपियों की शिनाख्त शुभम उर्फ डांसर निवासी सहारनपुर यूपी, सूरज उर्फ यूवी निवासी कनौज यूपी, दीपक उर्फ बांटी निवासी मेरठ यूपी के रूप में हुई है। साउथ ईस्ट जिला के डीसीपी चिन्मय विस्वाल ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने 19 वाहन चोरी के मामले सुलझा लिए है।
 
पुलिस को पूछताछ में पता चला है कि पकड़े गए तीनों आरोपी अब तक सौ से ज्यादा बाइक चोरी की वारदात को अंजाम दे चुके है। आरोपी बाइक चोरी करने के बाद उसे मेरठ में बेच दिया करते थे। पुलिस को पूछताछ में पता चला है कि शुभम उर्फ डांसर नामक आरोपी इस गिरोह का मास्टरमाइंड है। शुभम ने पूछताछ में बताया कि वह तीन से चार साल पहले डांस सिखाने के लिए दिल्ली आया था और उसने करीब एक साल पहले प्रहलादपुर इलाके में मुस्कान डांस अकेडमी खोली थी। 
 
शुभम ने बताया कि उसके खर्चा बेहद बढ़ गया है ऐसे में वह अपने खर्चे को पूरा करने के लिए दीपक नामक वाहन चोर से मिला और वह उसके बाद दीपक के साथ मिलकर बाइक चोरी की वारदात को अंजाम दिया करता था इसके बाद यह लोग बाइक मेरठ में बेच दिया करते थे। वहीं, पकड़ा गया आरोपी सूरज उर्फ यूवी शुभम के डांस एकेडमी में डांस सिखाने आया था लेकिन वह फीस नही दे पा रहा था जिसके चलते शुभम ने उसे मोटी कमाई का लालच देकर अपने साथ बाइक चोरी की वारदात में शामिल कर लिया। 
 
यह लोग रिसीवरों द्वारा की जाने वाली डिमांड में दिल्ली से बाइक चोरी किया करते थे, फिर इन बाइकों को मेरठ में रिसीवरो बेच दिया करते थे। जहां ज्यादातार चोरी की बाइकों को ध्वस्त करने के बाद उनके पार्ट्स निकाल कर बेच दिया करते थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS