ब्रेकिंग न्यूज़
दुष्कर्म के दोषी आसाराम को अभी भी उनके अंधभक्त मान रहे पाक साफ, कर रहे हवनदुल्हन ने शादी मंडप में शादी करने से किया इनकार, दूल्हे की दिमागी हालत खराबबिहार सरकार जल्द करें गन्ना किसानों के बकाया का भुगतान : हाइकोर्टनाबालिग से बलात्कार के मामले आसाराम को उम्रकैद, बाकी दोषियों को 20-20 साल की सजाकुत्तों-बंदरों से परेशान हुआ एम्स के डॉक्टर और मरीज, मेनका गांधी को लिखा पत्रमोदी-माल्या पर शिकंजा कसेगी ईडी, संपत्ति कुर्क करने के लिए नए अध्यादेश की तैयारीकर्नाटक चुनाव: जदयू ने जारी की दूसरी लिस्ट, 12 उम्मीदवारों के नामों की घोषणाभारत और चीन के बीच मतभेद विवादों में नहीं बदलना चाहिए : रक्षामंत्री
राज्य
विधानसभा को बंधक बना रही सपा, सरकार हर मुद्दे पर चर्चा को तैयार : योगी
By Deshwani | Publish Date: 15/12/2017 3:01:41 PM
विधानसभा को बंधक बना रही सपा, सरकार हर मुद्दे पर चर्चा को तैयार :  योगी

लखनऊ, (हि.स.)। विधानसभा के शीतकालीन सत्र में विपक्षियों द्वारा दूसरे दिन शुक्रवार को भी हंगामा करने पर नेता सदन और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कड़ा एतराज जताया है। उन्होंने प्रमुख विपक्षी सपा पर विधानसभा को बंधक बनाने का आरोप लगाया है।

विपक्षियों के हंगामे के बीच मुख्यमंत्री ने सदन में कहा कि राज्य सरकार लोकतांत्रिक तरीके से हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि सर्वदलीय की बैठक में सदन को सुचारु रुप से चलाने की सहमति बनी थी। लेकिन अब कुछ लोग विधानसभा को बंधक बनाने का कार्य कर रहे हैं।

विधानसभा अध्यक्ष की ओर इशारा करते हुए योगी ने कहा कि विधानसभा को बंधक बनाने का जो प्रयास हो रहा है, उसपर आसन को उचित कदम उठाना चाहिये। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिजली के दरों में बढ़ोत्तरी को लेकर जो हंगामा किया जा रहा है, वह बिल्कुल गलत है। योगी ने कहा कि बिजली का दर मात्र 80 पैसे से एक रुपया दस पैसा किया गया है। उन्होंने कहा कि इस विरोध से सपा का किसान विरोधी चेहरा सामने आ गया है। 

योगी ने कहा कि सपा शासन में जब किसानों को बिजली नहीं मिलती थी तो उन्हें डीजल खर्च करना पड़ता था। उस समय उनको बिजली 25 रुपये प्रति यूनिट पड़ती थी, जबकि अब उसी किसान को बढ़ी दर पर भी मात्र एक रुपया दस पैसा ही एक यूनिट का देना पड़ेगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा इसलिए है क्योंकि उनकी सरकार ने पूरे प्रदेश में समान रुप से विद्युत आपूर्ति शुरु कर दी है और किसानों को 18 घंटे बिजली मिल रही है। 

गौरतलब है कि विधानसभा का शीतकालीन सत्र गुरुवार को प्रारम्भ हुआ। पहले दिन से ही सपा समेत अन्य विपक्षी दल बिजली दर में हुई बढ़ोत्तरी को लेकर हंगामा कर रहे हैं। विपक्षी सदस्यों द्वारा लगातार किये जा रहे हंगामे के चलते सदन की कार्यवाही को आज सोमवार 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी। पहले दिन गुरुवार को तो सदन की पूरी कार्यवाही हंगामे की भेंट चढ़ गयी थी। 

 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS