ब्रेकिंग न्यूज़
दुष्कर्म के दोषी आसाराम को अभी भी उनके अंधभक्त मान रहे पाक साफ, कर रहे हवनदुल्हन ने शादी मंडप में शादी करने से किया इनकार, दूल्हे की दिमागी हालत खराबबिहार सरकार जल्द करें गन्ना किसानों के बकाया का भुगतान : हाइकोर्टनाबालिग से बलात्कार के मामले आसाराम को उम्रकैद, बाकी दोषियों को 20-20 साल की सजाकुत्तों-बंदरों से परेशान हुआ एम्स के डॉक्टर और मरीज, मेनका गांधी को लिखा पत्रमोदी-माल्या पर शिकंजा कसेगी ईडी, संपत्ति कुर्क करने के लिए नए अध्यादेश की तैयारीकर्नाटक चुनाव: जदयू ने जारी की दूसरी लिस्ट, 12 उम्मीदवारों के नामों की घोषणाभारत और चीन के बीच मतभेद विवादों में नहीं बदलना चाहिए : रक्षामंत्री
राज्य
दिल्ली में अवैध निर्माणों पर सुप्रीम कोर्ट सख्त
By Deshwani | Publish Date: 15/12/2017 1:03:07 PM
दिल्ली में अवैध निर्माणों पर सुप्रीम कोर्ट सख्त

नई दिल्ली, (हि.स.)। सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में अवैध निर्माणों पर सख्ती दिखाई है। कोर्ट ने केजे राव की अध्यक्षता वाली मानिटरिंग कमेटी को फिर से सक्रिय होने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा कि कमेटी ये देखे कि कहां-कहां अवैध निर्माण हुए हैं और उनके खिलाफ जरुरी कार्रवाई करे। कोर्ट ने दिल्ली में बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण की रिपोर्ट को देखते हुए ये आदेश दिया है।

 

पिछले 6 दिसंबर को कोर्ट ने राजधानी में अवैध निर्माण पर गंभीर चिंता जाहिर करते हुए 2006 की मॉनिटरिंग कमिटी को दोबारा सक्रिय करने का आदेश दिया था। जस्टिस मदन बी लोकुर और जस्टिस दीपक गुप्ता की बेंच ने मामले में दक्षिणी दिल्ली नगर निगम को नोटिस जारी किया था।

 

दरअसल दक्षिणी दिल्ली के मेहरौली में अवैध निर्माण को लेकर कोर्ट में याचिका दायर की गई है। कोर्ट ने इस मामले में एएसजी को कोर्ट की मदद करने का निर्देश दिया था। 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS