ब्रेकिंग न्यूज़
'दंगल' फेम सुहानी भटनागर की प्रेयर मीट में पहुंचीं बबीता फोगाटबिहार:10 जोड़ी ट्रेनें 25 फरवरी तक रद्द,नरकटियागंज-मुजफ्फरपुर रेलखंड की ट्रेनें रहेंगी प्रभावितप्रधानमंत्री ने मिजोरम के निवासियों को राज्‍य के स्‍थापना दिवस पर शुभकामनाएं दीउपराष्ट्रपति ने कहा- भारत सुषुप्‍त अवस्‍था से जागृत अवस्‍था में प्रवेश कर चुका हैमोतीहारी: गांधी कुष्ठ कॉलोनी में मरीजों के बीच खाद्य सामग्री व सफाई सामग्री के साथ-साथ कंबल का भी वितरण किया गयामहागठबंधन छोड़ नीतीश शामिल हुए एनडीए में, बिहार में बनी एनडीए की सरकारमोतीहारी: राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर महात्मा गांधी ऑडिटोरियम में नव मतदाता सम्मेलन का आयोजनउपराष्ट्रपति ने श्री हरिशंकर भाभड़ा के निधन पर शोक व्यक्त किया
नेपाल
भारत-नेपाल मैत्री पुल पर जांच के क्रम में एक बांग्लादेशी नागरिक गिरफ्तार
By Deshwani | Publish Date: 29/11/2023 10:27:49 PM
भारत-नेपाल मैत्री पुल पर जांच के क्रम में एक बांग्लादेशी नागरिक गिरफ्तार

रक्सौल अनिल कुमार। भारत-नेपाल मैत्री पुल पर जांच के क्रम में एक बांग्लादेशी नागरिक को गिरफ्तार किया गया है।बांग्लादेशी नागरिक मैत्री पुल पर तैनात एसएसबी के द्वारा जांच के क्रम में पकड़ा गया। बांग्लादेशी नागरिक की पहचान मुगर अली का पुत्र सैफुल खान बताया जा रहा है। जो बांग्लादेश के दौतीया पोस्ट कमालपुर थाना धनराई जिला ढाका बांग्लादेश का निवासी है। सैफुल खान रक्सौल से ई रिक्शा पकड़ कर बीरगंज जा रहा था। मैत्री पुल पर जांच के क्रम में उसके बैग से भारतीय पहचान पत्र व बांग्लादेशी पहचान प्रत्र प्राप्त हुआ है।  

 
 
 
 
 
इसके पास से भारतीय आधार कार्ड, पैन कार्ड, एटीएम कार्ड एवम बांग्लादेशी आईडी कार्ड के साथ पकड़ा गया है। जिसे पकड़कर हरैया थाना में सौप दिया गया। वही हरैया पुलिस के द्वारा बांग्लादेशी नागरिक सैफुल खान से पूछताछ के दौरान बताया कि 2018 में भारत बांग्लादेश रंगपुर बॉर्डर पर एक एजेंट मोहम्मद मौजिद नामक व्यक्ति के माध्यम से भारत मे प्रवेश किया था। इसके लिए उसने 20 हजार रुपये लिए थे। वही से सिलीगुड़ी  होते हुए वह नेपाल के काठमांडू चला गया था। जहां वह सिलाई का काम करता था। 
 
 
 
 
 
 
लेकिन नागरिकता नही रहने के चलते उसे हमेशा पकड़े जाने का डर बना रहता था। फिर वह भारत के गुजरात के अहमदाबाद नरौला में जा कर रहने लगा वहाँ पर किसी अकबर नामक व्यक्ति से संपर्क किया व उससे फर्जी आधार कार्ड, पैन कार्ड बनवाया जिसके आधार से बैंक में खाता खोलवाया। 
 
 
 
 
 
इसके लिए अकबर को पांच हजार रुपये देना पड़ा था। उसने बताया कि वह नेपाल के काठमांडू में किसी के शादी में शामिल होने जा रहा था तब तक मैत्री पुल पर एसएसबी के द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। वही हरैया ओपी प्रभारी अनुज कुमार ने बताया की कागजी कार्रवाई कर बांग्लादेशी नागरिक को न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS