ब्रेकिंग न्यूज़
रक्सौल: भाजपा सांगठनिक जिला अध्यक्ष वरुण कुमार सिंह ने जिला कार्यसमिति के चार सदस्यों को 6 वर्षों के लिए किया निष्कासितनेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य मुकेश चौरसिया की मौत के बाद नेपाल पुलिस से शिकायत दर्ज करने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन जारीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर दिल्ली भाजपा ने रेड लाइट पर बैनर और प्लेकार्ड के माध्यम से कोरोना से बचाव के लिए किया जागरूकIPL 2020: सनराइजर्स हैदराबाद ने दिल्‍ली कैपिटल्‍स को जीत के लिए 220 रन का दिया लक्ष्‍यबांग्‍लादेश में नदियों, तलाबों और जलाशयों में दुर्गा प्रतिमाओं के विसर्जन के साथ दुर्गापूजा का त्‍यौहार संपन्‍नप्रधानमंत्री मोदी ने कहा- प्रशासनिक प्रक्रियाओं को पारदर्शी, जिम्‍मेदार, जवाबदेह और विकास के लिए लोगों के प्रति उत्‍तरदायी होना चाहिएबिहार के मुंगेर में मूर्ति विर्सजन को लेकर हिंसक झड़प एक की मौत, पुलिसकर्मी सहित कई अन्य घायल, 28 को है यहां चुनावबिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए प्रचार अभियान जोरों पर
राष्ट्रीय
कोरोना वैक्सीन पर स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का बयान, साल की शुरुआत तक देश में होंगी कई वैक्सीन
By Deshwani | Publish Date: 13/10/2020 8:30:51 PM
कोरोना वैक्सीन पर स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का बयान, साल की शुरुआत तक देश में होंगी कई वैक्सीन

नई दिल्ली। भारत में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 71 लाख 73 हजार 565 हो गया है और पिछले 24 घंटे में 710 लोगों ने दम तोड़ा। देश में रिकवरी रेट लगातार बढ़ रही है। इस बीच स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कोरोना की वैक्सीन पर बड़ा बयान दिया है। डॉ हर्षवर्धन ने आज कहा कि कोरोना वैक्सीन के अगले साल की शुरुआत तक तैयार होने की संभावना है तथा देश की बड़ी आबादी को देखते हुए इसकी पर्याप्त आपूर्ति के लिए कई वैक्सीन निर्माताओं से संपर्क किया जायेगा।

 
 कोविड-19 के लिए गठित मंत्री समूह की मंगलवार को आयोजित 21वीं बैठक को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने देश कोरोना संक्रमण की स्थिति और उससे जुड़े पहलुओं पर चर्चा की। उन्होंने आगामी त्योहारी मौसम में कोरोना संक्रमण के प्रसार के बढ़ने की आशंका पर चिंता व्यक्त की और सभी से अपील की कि वे त्योहारों को मनाने के दौरान कोविड-19 अनुकूल व्यवहार का पालन जरूर करें।
 
डॉ हर्षवर्धन ने इससे पहले भी यह बात दोहरायी थी कि देश की आबादी को देखते हुए वैक्सीन की आपूर्ति किसी एक स्रोत से की ही नहीं जा सकती है और इसके लिए कई स्रोतों से यानी वैक्सीन निर्माताओं से वैक्सीन की खरीद करनी होगी। उन्होंने साथ ही कहा कि सर्दी के मौसम में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है और ऐसे में लोगों को कोविड-19 अनुकूल व्यवहार अपनाने के प्रति प्रेरित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशव्यापी जन आंदोलन की शुरूआत की है।
 
उन्होंने कई माह से अनवरत कोरोना के खिलाफ अग्रिम मोर्चे पर डटे कोरोना योद्धाओं के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने साथ ही मंत्री समूह को अवगत कराया कि देश में कोरोना के खिलाफ जन स्वास्थ्य व्यवस्था किस तरह सुदृढ की गयी और इससे क्या सकारात्मक परिणाम रहे।
 
स्वास्थ्य मंत्री  ने बताया कि भारत में सर्वाधिक 62,27,295 व्यक्ति कोरोना संक्रमण मुक्त हुए हैं और राष्ट्रीय औसत रिकवरी दर 86.78 प्रतिशत है। देश में कोरोना मृत्युदर दुनिया में सबसे कम 1.53 प्रतिशत है और संक्रमण के दोगुना हाेने (डब्लिंग टाइम) का समय तीन दिन से बढ़कर अब 74.9 दिन हो गया है। देशभर में 1,927 कोरोना टेस्ट लैब दिन रात कोरोना जांच कर रहे हैं जिससे देश की जांच क्षमता बढ़कर औसतन 15 लाख टेस्ट प्रतिदिन हो गयी है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS