ब्रेकिंग न्यूज़
निगरानी की टीम ने मोतिहारी डीटीओ कार्यालय से डेटा ऑपरेटर व प्रधान सहायक को किया गिरफ्तार, टीम ने कहा- 39 हजार रुपए लेते रंगे हाथ दबोचा गयामोतिहारी पुलिस ने कार पर लदी नेपाली बीयर के साथ चार को पकड़ा, बदमाशों में एक पर स्वर्णकार को गोलीमार घायल कर आभूषण लूटने का आरोपसमस्तीपुर : अब नए समय से चलेगी वैशाली एक्सप्रेस व स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेनबेतिया एमजेके सदर अस्पताल को जीएमसीएच भवन में किया जायेगा शिफ्टरामगढ़वा में कार सहित 11 लाख 53 हजार रुपये व एक पिस्टल के साथ एक व्यक्ति गिरफ्तारपश्चिम चंपारण: पुलिस ने किया ट्रेक्टर लुटेरा गिरोह का पर्दाफाश,5 गिरफ्तारसमस्तीपुर: पटोरी में गला रेतकर युवक की हत्या, युवक को दोनों हाथ बांध गला रेतने की आशंकागुरु नानक जयंती और गुरुपर्व आज, भारत सहित विश्व भर में धार्मिक श्रद्धा और उल्लास से मनाया जा पांच सौ 51वां प्रकाशोत्सव
राष्ट्रीय
भारतीय नौसेना के प्रमुख युद्धक पोतों की संचालन और युद्धक तैयारियों की नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने की समीक्षा
By Deshwani | Publish Date: 23/10/2020 9:24:04 PM
भारतीय नौसेना के प्रमुख युद्धक पोतों की संचालन और युद्धक तैयारियों की नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने की समीक्षा

नई दिल्ली। नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने भारतीय नौसेना के प्रमुख युद्धक पोतों की संचालन और युद्धक तैयारियों की समीक्षा की। वे कारवाड स्थित नौसेना केन्‍द्र पहुंचे जहां उन्होंने नौ सैनिकों  के साथ बातचीत की। उन्‍होंने युद्ध पोतों की क्षमता मजबूत करने के उपायों और अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर विचार-विमर्श किया। नौसेना प्रमुख ने आतंकी हमले के खिलाफ साइबर सुरक्षा और नौ-सेना कर्मियों की सुरक्षा पर जोर दिया।




बाद में एडमिरल करमबीर सिंह हैलिकॉप्टर से करियर बैटल ग्रुप की शुरूआत करने के लिए रवाना हुए। इस बैटल ग्रुप में विक्रमादित्य, विध्वंसक, फ्रिगेट और लड़ाकू पोत तथा हैलिकॉप्टर शामिल हैं। देश में ही निर्मित प्रक्षेपास्त्र विध्वंसक पोत चेन्नई का जलावतरण करते समय फ्लीट कमांडर ने उन्हें संचालन तैयारियों के बारे में जानकारी दी। इसके बाद हवा से हवा में मार करने वाले पोतों की लड़ाकू क्षमताओँ, पनडुब्बी रोधी ड्रिल और युद्धपोतों की गतिविधियों का प्रदर्शन किया गया। नौसेना प्रमुख ने फ्लीट सपोर्ट पोत दीपक का भी उद्घाटन किया और पोत के कर्मचारियों के साथ बातचीत की। वे विमानवाहक पोत विक्रमादित्य पर गए और करियर बैटल ग्रुप की आक्रामक और रक्षात्मक क्षमता का निरीक्षण किया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS