ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल: बीरगंज के नारायणी अस्पताल में हुए पिसिआर परिक्षण में 141 लोग कोरोना संक्रमित पाये गयेमुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वाल्मीकिनगर से बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा कियाडंकन अस्पताल रक्सौल में कोविड-19 का जाँच और उपचार शुरुकोरोना वायरस: जिला पदाधिकारी ने संक्रमित मरीजों के निवास स्थानों को कंटेन्मेंट जोन बनाने दिया निर्देशरक्सौल: प्रखंड प्रमुख संजीव कुमार सिन्हा ऊर्फ मुन्ना सिन्हा के असामायिक निधन पर श्रधांजलि सभा का किया गया आयोजनप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए किया भूमि पूजन, पूरे देश में जश्न का माहौलपश्चिम चंपारण: सरकार के प्रतिबंध के बावजूद बालू का अवैध उत्खनन जारीराधा मोहन सिंह ने कहा- राम मंदिर की नींव पर रखी जाने वाली प्रत्येक ईंट राष्ट्र गौरव को शिखर की ओर ले जाएगी
राष्ट्रीय
प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना को नवंबर तक बढाने की मंत्रिमंडल ने दी मंजूरी
By Deshwani | Publish Date: 9/7/2020 1:08:09 PM
प्रधानमंत्री गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना को नवंबर तक बढाने की मंत्रिमंडल ने दी मंजूरी

नई दिल्ली केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्‍न योजना की अवधि पांच महीने और बढ़ाने को मंजूरी दे दी है। सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज नई दिल्‍ली में बताया कि इस योजना के अन्‍तर्गत लाभार्थी परिवार के प्रत्येक सदस्य को पांच किलोग्राम गेहूं या चावल और प्रत्येक परिवार को एक किलोग्राम चना पांच महीने के लिए दिया जाएगा। उन्‍होंने बताया कि इस योजना से देश के करीब 80 करोड़ लोगों को लाभ होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले महीने की 30 तारीख को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में इस योजना की अवधि बढ़ाये जाने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि देश में गरीब और जरूरतमंद व्यक्ति भूखे नहीं रहेंगे और मौजूदा कोविड महामारी के समय बारिश और आने वाले त्योहारों के मौसम के दौरान उन्‍हें मुफ्त राशन प्रदान किया जाएगा।

 
 
 
 
वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन ने देशव्यापी लॉकडाउन शुरू होने के तुरंत बाद योजना के पहले चरण की घोषणा की थी। पहले चरण के तहत इस साल अप्रैल से तीन महीने के लिए मुफ्त अनाज उपलब्ध कराया गया था। दूसरा चरण, पहली जुलाई से शुरू होकर 30 नवंबर तक चलेगा। इस चरण के दौरान दो सौ लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं-चावल और 9 लाख 78 हजार मीट्रिक टन चना वितरित किया जाएगा। प्रधानमंत्री ग्रामीण कल्याण अन्‍न योजना पर लगभग एक लाख 50 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS