ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी की छतौनी पुलिस ने लकड़ी लदे ट्रक में छुपाकर रखी भारी मात्रा में शराब जब्त की, 6 गिरफ्तार, झखिया में देनी थी डिलेवरीमोतिहारी के कल्याणपुर में पूर्व प्रमुख के पति की रड व चाकू से गोदकर हत्या, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रकाश अस्थाना के छोटे भाई जेपी अस्थाना भी गंभीर घायलसमस्तीपुर: आपसी विवाद में चली गोली से महिला सहित दो जख्मी, गंभीर स्थिति में रेफरअभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जांच की मांग को लेकर राज्‍यभर में हुआ प्रदर्शनमोतिहारी में एनएच 28 पर जय माता दी बस की चपेट में आए दो लोग, वाटगंज के मेडिकल प्रैक्टिसनर व भतीजे की मौत, बारिश में छतरी लगाकर राजमार्ग जाममोतिहारी के मधुबन में बारात में चली गोली, गोढ़वा के युवक की मौत, आर्म्स के साथ एक गिरफ्तारमोतिहारी के चकिया ट्रक की चपेट में आकर बाइक सवार दो की मौके पर मौत, तीसरा घायल, लोगों ने रात में ही कर दी सड़क जामसमस्तीपुर में मौत बनकर गिरी आकाशीय बिजली, आठ लोगों की मौत
अंतरराष्ट्रीय
भारतीय नौसेना की ताकत में होगा इजाफा, अमेरिका बेचेगा एक अरब डॉलर की तोपें
By Deshwani | Publish Date: 21/11/2019 11:08:52 AM
भारतीय नौसेना की ताकत में होगा इजाफा, अमेरिका बेचेगा एक अरब डॉलर की तोपें

वाशिंगटन। जल्द ही भारतीय नौसेना की ताकत में वृद्धि होने वाली है। अमेरिका ने भारत को 1 अरब डॉलर की नौसैन्य तोपें बेचने का फैसला लिया है। ट्रंप प्रशासन ने अमेरिकी कांग्रेस को दी गई जानकारी में कहा कि उसने भारत को 1 अरब डॉलर यानी करीब 7100 रुपये की एमओडी-4 नेवी तोपों को बेचने के फैसले को मंजूरी दी है। इन्हें युद्धक जहाजों, ऐंटी-एयरक्राफ्ट और किनारे पर बमबारी करने में सक्षम जहाजों पर तैनात किया जाएगा।

 
इसके बाद भारतीय नौसेना की ताकत  बढ़ जाएगी। दुश्मन का समुद्र के रास्ते भारत की ओर निगाह दौड़ाना दिवास्वप्न हो जागा। अमेरिकी कांग्रेस ने इस आशय की स्वीकृति मंगलवार को प्रदान की। यह तोपें भारत को कब मिलेंगी, अभी यह साफ नहीं हो सका है। इनकी मारक क्षमता 20 नाटिकल मील बताई जाती है। 
 
अमेरिकी रक्षा विभाग ने बुधवार को जारी बयान में कहा है  इस नौसेना के  साजो सामान के साथ अपेक्षित बारूद भी भेजने को स्वीकृति दी गई है। यह कुल साजो सामान एक अरब दो सौ करोड़ डॉलर का है। अमेरिका की डिफेंस सिक्योरिटी को-ऑपरेशन एजेंसी ( डीएससीए ) ने कहा है कि प्रस्तावित बिक्री अमेरिकी विदेश नीति और राष्ट्रीय सुरक्षा  नीति को बल प्रदान करने के उद्देश्य से की गई है।
 
उल्लेखनीय है कि मोदी सरकार के सत्तारूढ़ होने के बाद भारत और अमेरिका के बीच द्वपक्षीय सामरिक रणनीति में मजबूती आई है। अमेरिका ने पिछले साल ही 'नाटो' के मित्र देशों के रूप में भारत को दर्जा दिया है। अब भारत की रक्षा जरूरतों को पूरा करने का बीड़ा उठाया है। भारतीय नौसेना के बेड़े में एमके-45 गन सिस्टम आने से समुद्र मार्ग से दुश्मन के हवाई आक्रमण को नेस्तनाबूत किया जा सकेगा। इसी तरह नभ से भी एंटी एयर गन सिस्टम से दुश्मन के दांत खट्टे करने में मदद मिलेगी। अमेरिकी बयान में कहा गया है कि बीएई निर्मित इस सिस्टम का उपयोग अमेरिका के अलावा दक्षिण कोरिया , जापान और डेनमार्क कर रहे हैं। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS