ब्रेकिंग न्यूज़
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा की आतंकवाद को अपनी कार्य नीति का हिस्सा बना लिया पाकिस्तानसरकार अर्थव्‍यवस्‍था को फिर से पटरी पर लाने के लिए और उपाय कर रही: निर्मला सीतारमन्कुशीनगर में बुद्ध महापरिनिर्वाण मंदिर के समीप नया गेट बनवाने पर कई अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्जजन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश अध्यक्ष गौतम आनंद को किया गया बर्खास्‍तझारखंड विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण की 20 सीटों पर मतदान जारीबिहार में बलात्‍कारियों को गोली मारने वालों को पप्‍पू यादव देंगे 5 लाख, कहा-हैदराबाद एनकाउंटर टीम को देंगे 50-50 हजारभारत ने आज 13वें दक्षिण एशिया खेलों में 2 स्वर्ण सहित 12 पदक जीतेपॉक्‍सो अधिनियम के तहत दोषियों के लिए नहीं होना चाहिए दया याचिका का प्रावधान: रामनाथ कोविंद
राष्ट्रीय
गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा वापस लेने पर विपक्ष का लोकसभा में हंगामा, सदन 2 बजे तक स्थगित
By Deshwani | Publish Date: 19/11/2019 1:38:07 PM
गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा वापस लेने पर विपक्ष का लोकसभा में हंगामा, सदन 2 बजे तक स्थगित

नई दिल्ली। संसद के शीत सत्र का आज दूसरा दिन है। आज भी दोनों सदनों की शुरुआत हंगामेदार रही। आज जहां लोकसभा में कांग्रेस द्वारा गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा वापस लेने पर हंगामा किया गया। कांग्रेस सांसदों ने लोकसभा में गांधी परिवार को एसपीजी सुरक्षा नहीं देने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी की। कांग्रेस और डीएमके के सदस्यों ने ‘बदले की राजनीति बंद करो’, ‘एसपीजी के साथ राजनीति करना बंद करो’ और ‘वी वांट जस्टिस’ के नारे लगाए।

 
वहीं राज्‍य सभा में लेफ्ट सांसदों ने सोमवार को दिन भर चले जेएनयू सांसदों के मुद्दे को उठाने की कोशिश की। जेएनयू फीसवृद्धि का नोटिस स्वीकार नहीं किए जाने पर सीपीआई और सीपीएम सांसदों ने हंगामा शुरू किया जिस पर सभापति वैंकैया नायडू ने सदन 2 बजे तक स्थगित कर दिया गया। विपक्ष ने किसानों की आय को लेकर लोकसभा में तानाशाही बंद करो के नारे लगाए। कांग्रेस सांसद निचले सदन की वेल में आ गए। उधर, विपक्ष ने दोनों सदन में वायु प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन पर चर्चा के लिए नोटिस दिया है।
 
बता दें कि हाल ही में सरकार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा वापस ले ली थी। अब उन्हें जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है। लोकसभा में बसपा के कुंवर दानिश अली ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों पर पुलिस द्वारा कथित तौर पर बल प्रयोग करने का मुद्दा उठाने का प्रयास किया। नेशनल कांफ्रेंस के हसनैन मसूदी भी आसन के समीप खड़े हुए दिखाई दिए।
 
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सदन में शोरगुल के बीच प्रश्नकाल आरंभ किया, जिसकी शुरुआत किसानों की आय 2022 तक दोगुना करने संबंधी प्रश्नों से हुई। बिरला ने नारेबाजी कर रहे सदस्यों से अपने स्थान पर जाने की अपील करते हुए कहा कि किसानों के विषय पर चर्चा हो रही है और ऐसे में सदन में हंगामा अच्छी परंपरा नहीं है। लोकसभा अध्यक्ष की अपील के बाद भी सदन में हंगामा जारी रहा। नारेबाजी के बीच ही बिरला ने प्रश्नकाल को आगे बढ़ाया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS