ब्रेकिंग न्यूज़
चमकी बुखार का कहर: अबतक 69 बच्चों की मौत, एक दर्ज़न से अधिक की स्थिति नाज़ुककोपा अमेरिका के पहले मैच में ब्राजील ने बोलिविया को 3-0 से हराया, कुटिन्हो ने दो गोल किएमौनी रॉय 'बोले चूड़ियां' के बाद 'दबंग 3' से भी आउट हुईं, हैरान कर देगी वजहनक्सलियों से लोहा लेते हुए झारखंड में शहीद हुआ भोजपुर का जवान गोवर्धन, परिवार में मचा कोहरामनरेश गोयल की मुश्किलें और बढ़ी, इनकम टैक्स विभाग ने टैक्स चोरी मामले में भेजा समनसपा ने उप्र की बिगड़ रही कानून-व्यवस्था को लेकर राज्यपाल को सौंपा ज्ञापनदो गुटों में हिंसक झड़प, बमबारी और फायरिंग में तीन टीएमसी कार्यकर्ताओं की मौतनीति आयोग की बैठक में भाग लेंगे नीतीश, उठा सकते हैं बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग
राष्ट्रीय
प्रधानमंत्री मोदी पर राहुल ने की थी विवादित टिप्‍पणी, केस दर्ज हो या नहीं, कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा
By Deshwani | Publish Date: 22/5/2019 2:36:15 PM
प्रधानमंत्री मोदी पर राहुल ने की थी विवादित टिप्‍पणी, केस दर्ज हो या नहीं, कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

नई दिल्ली। दिल्ली के राऊज एवेन्यू कोर्ट ने राहुल गांधी के खून की दलाली वाले बयान पर फैसला सुरक्षित रख लिया है। कोर्ट सात जून को इस मामले पर फैसला सुनाएगा। कोर्ट सात जून को तय करेगा कि राहुल गांधी को समन जारी किया जाए या नहीं।

 
आज सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता ने कहा कि हमारे जवान सीमा पर रक्षा कर रहे हैं और राहुल गांधी आरोप लगा रहे हैं कि पीएम जवानों के खून की दलाली कर रहे हैं। 15 मई को दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में अपमानजनक बयान देने पर एक्शन टेकन रिपोर्ट दाखिल किया।
 
दिल्ली पुलिस ने कहा था कि इस मामले में कोई संज्ञेय अपराध नहीं हुआ है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक इस मामले में अलग से मानहानि का केस दायर किया जा सकता है लेकिन केस उसे दायर करना चाहिए, जिसके खिलाफ बयान दिया गया हो। पिछले 26 अप्रैल को एडिशनल चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल की कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को एक्शन टेकन रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया था। याचिका जोगिंदर तुली ने दायर की है।
 
याचिका में राहुल गांधी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124ए के तहत मामला दर्ज करने की मांग की गई है। याचिका में कहा गया है कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की। याचिका में कहा गया है कि राहुल गांधी ने अपने बयान में कहा था कि नरेन्द्र मोदी जवानों के खून के पीछे छिपे हुए हैं और सैनिकों की बलिदान की दलाली कर रहे हैं। 
 
राहुल गांधी के खिलाफ राफेल मामले में उनके बयान ‘चौकीदार चोर है’ के बयान के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है। सुप्रीम कोर्ट ने उस मामले में फैसला सुरक्षित रख लिया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS