ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी में डंपर के नीचे काम कर रहे मिस्त्री व बगल में खड़े चालक को ट्रक ने कुचला, दो की मौत, तीन घायलग्रामीणों की सजगता से पचरुखिया चौक पर लगे एटीएम को चुराने में असफल रहे लूटेरेसीमा चौकी रक्सौल एवं एकीकृत जांच चौकी में 70वें बैच के कस्टम अधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षणभाई ने पेश की मिसाल, रक्तदान कर बहन एंजल को दिया जन्मदिन का उपहारलोहिया की पुण्यतिथि: लोस चुनाव में हार के बाद पहली बार एक साथ दिखे महागठबंधन के सभी नेताप्रधानमंत्री मोदी ने महाबलीपुरम के समुद्र तट पर की साफ सफाई, दुनिया को दिया स्वच्छता का पैगाममोदी-शी शिखर वार्ता: कारोबार, निवेश, सेवा क्षेत्र में एक ‘तंत्र' स्थापित करने पर बनी सहमतिसंतकबीरनगर: घाघरा नदी में नाव पलटने से 18 लोग डूबे, चार लापता
राष्ट्रीय
जब भारत को पीड़ा होती है, राहुल को बहुत खुशी मिलती हैः रविशंकर प्रसाद
By Deshwani | Publish Date: 14/3/2019 4:12:36 PM
जब भारत को पीड़ा होती है, राहुल को बहुत खुशी मिलती हैः रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तीखा हमला बोलते हुए आज कहा कि जब देश को पीड़ा होती है तो उन्हें खुशी होती है। पार्टी ने कहा कि सुरक्षा परिषद में कुख्यात आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के प्रस्ताव पर चीन द्वारा अड़ंगा लगाए जाने पर जिस तरह से राहुल गांधी ने ट्वीट किया है उससे यह सवाल उठता है कि आखिर एक आतंकी के खिलाफ कार्रवाई में चीन के बाधा पहुंचाने से वह खुश क्यों हैं।

 
भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने आज पार्टी मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा कि चीन ने सुरक्षा परिषद में जिस तरह से अड़ंगा लगाकर मसूद अजहर का बचाव किया है उससे भारत और भारतीयों को बहुत पीड़ा हुई है। किंतु, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जो ट्वीट किया है उससे पता चलता है कि जब भारत को पीड़ा होती है तो उनको खुशी मिलती है। उन्होने कहा कि राजनीति में अंतर्विरोध होना चाहिए। लेकिन इस तरह का विरोध भी स्वीकार्य नही है जो राहुल गांधी जता रहे हैं।
 
उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष की विदेश नीति पर समझ को लेकर तंज कसते हुए कहा कि राहुल गांधी विदेश नीति ट्विटर से नही चलती। उन्होने कहा कि राहुल गांधी विदेश नीति के बारे में कुछ पढ़ते-लिखते तो हैं नहीं। विदेश नीति के बारे में उनको क्या बोलना है, उम्मीद है कि इस बारे में उनको सलाह दी जाती होगी। भाजपा नेता ने कहा कि सुरक्षा परिषद में 2009,2016, 2017 और चौथी बार 2019 में चीन ने मसूद को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने की राह में रोड़ा अटकाया है। इस बार बैठक में फ्रांस, अमेरिका और इंग्लैंड ने प्रस्ताव पेश किया था और सुरक्षा परिषद के बाकी सदस्यों ने इसका समर्थन किया था। यह भारत की कूटनीतिक जीत है।
 
भाजपा नेता ने काग्रेस अध्यक्ष से सवाल किया कि क्या जब 2009 में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन के समय में भी चीन ने अड़ंगा लगाया था तो उस वक्त उन्होंने ट्वीट किया था। इसके साथ ही प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी के चीन से रिश्ते बेहतर हैं वह डोकलाम मामले पर भारत सरकार की अनुमति के बिना ही चीनी दूतावास चले गए थे जानकारी लेने। ऐसे में उनको कुख्यात आतंकी के मामले में चीन से कहकर भारत की मदद करनी चाहिए।
 
प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी जब चीन की बात निकलेगी तो दूर तक जाएगी। उन्होंने जनवरी 2009 में हिन्दू अखबार में छिपे एक लेख का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस सांसद शशि थरूर की किताब का हवाला देते हुए लेख में कहा गया है कि संयुक्त राष्ट्र संघ ने भारत को सुरक्षा परिषद का सदस्य बनने का ऑफर किया था किंतु तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने अपनी बजाय चीन का नाम आगे कर दिया था। रविशंकर ने कहा कि राहुल गांधी जी आप के परिवार के कारण ही चीन सुरक्षा परिषद में पहुंचा।
 
उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने जो ट्वीट किया है उसको आज पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के कार्याल में बड़े चाव से पढ़ा जा रहा होगा । उन्होंने कहा कि आतंवाक के मामले में कांग्रेस कितनी गंभीर है यह राहुल के ट्वीट से पता चलता है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ भाजपा पूरी गंभीरता से लड़ाई चल रही है
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS