ब्रेकिंग न्यूज़
राजस्थान: साथ नजर आए सचिन पायलट और अशोक गहलोत, विधायक दल की बैठक कलराजस्थान विधानसभा चुनाव में राजकुमार शर्मा ने लगाई हैट्रिकआखिरकार सैफ अली खान ने देख ही ली सारा की 'केदारनाथ', करीना कपूर देंगी पार्टीछत्तीसगढ़: बीजेपी के हारते ही मुख्यमंत्री रमन सिंह के प्रमुख सचिव ने ली लंबी छुट्टीउपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट कर राहुल गांधी को दी बधाई, प्रधानमंत्री मोदी पर बोला हमलाभारत और रूस के बीच युद्धाभ्यास अविन्द्रा हुआ शुरूतीन राज्यों के रुझान में कांग्रेस को बढ़त, खुशी से झूमे कांग्रेस-आरजेडी कार्यकर्तावाजपेयी, अनंत, चटर्जी को श्रद्धांजलि देने के बाद दोनों सदनों की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित
राष्ट्रीय
सबरीमला भक्तों का विश्वास कुचलने की कोशिश कर रही केरल सरकार: अमित शाह
By Deshwani | Publish Date: 20/11/2018 3:11:05 PM
सबरीमला भक्तों का विश्वास कुचलने की कोशिश कर रही केरल सरकार: अमित शाह

नई दिल्ली। सबरीमला मुद्दे पर केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन पर निशाना साधते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज आरोप लगाया कि भगवान अयप्पा स्वामी के भक्तों के साथ ‘ कैदियों’ की तरह व्यवहार किया जा रहा है। केरल सरकार पर लोगों के विश्वास को‘कुचलने’की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए शाह ने कहा कि भाजपा श्रद्धालुओं के साथ मजबूती से खड़ी है।     

भाजपा अध्यक्ष ने अपने ट्वीट में आरोप लगाया कि श्रद्धालुओं को कूड़े के ढेर और सुअरों के रहने की जगह पर रात बिताने के लिए मजबूर किया जा रहा है। शाह ने कहा, पिनरायी विजयन सरकार जिस तरह सबरीमला के संवेदनशील मामले को ले रही है वह निराशाजनक है। केरल पुलिस युवा लड़कियों, माताओं एवं बुजुर्गों के साथ अमानवीय व्यवहार कर रही है, भोजन, आश्रय और पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं के बिना उन्हें कठिन तीर्थ यात्रा के लिए मजबूर कर रही है।’’ 
 
उन्होंने कहा कि केरल सरकार लोगों के विश्वास को ‘कुचलने’ की कोशिश कर रही थी, लेकिन भाजपा श्रद्धालुओं के साथ मजबूती से खड़ी रही। ‘‘ हम एलडीएफ को लोगों की आस्था कुचलने नहीं देंगे। ’’ भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अगर पिनरायी यह सोचते हैं कि वे हमारे त्रिशूर जिले के अध्यक्ष के सुरेन्द्रन एवं छह अन्य लोगों को गिरफ्तार कर सबरीमला के लिये खड़े लोगों के आंदोलन से पार पा जायेंगे, तो वह गलत सोच रहे हैं । हम अयप्पा श्रद्धालुओं के साथ पूरी तरह से खड़े हैं । उल्लेखनीय है कि सबरीमला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश संबंधी उच्चतम न्यायालय के फैसले को लागू करने का फैसले के बाद से सबरीमला और उसके आसपास के क्षेत्र में लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं । 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS