ब्रेकिंग न्यूज़
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: अब भ्रष्टाचार पर क्यों नहीं बोलते प्रधानमंत्री मोदी: राहुल गांधीहांगकांग ओपन टूर्नामेंट के पहले दौर में सिंधू की संघर्षपूर्ण जीत, प्रणीत बाहरसिंगापुर में प्रधानमंत्री मोदी ने लॉन्च किया ‘एपिक्स’, 23 देशों के जुड़ेंगे दो अरब लोगराफेल डील पर सुनवाई खत्म, उच्चतम न्यायालय ने फैसला रखा सुरक्षितसुपर-30 के संस्थापक आनंद कुमार दुबई में शाही परिवार से मिलेट्रंप ने व्हाइट हाउस में जलाया दीया, कहा- मोदी का करता हूं सम्मान'मरजावां' फिल्म से जुड़ा एक और एक्ट्रेस का नाम, Twitter पर किया खुशी का इजहाररालोसपा नेता की गोली मारकर हत्या, परिजनों को ढांढस बंधाने पहुंचे उपेंद्र कुशवाहा
पटना
राज्यपाल ने की अपराध और जीरो टॉलरेन्स पर मुख्यमंत्री नीतीश की सराहना, कहा- मेरे बयान की सही तरीके से हो व्याख्या
By Deshwani | Publish Date: 17/6/2018 7:33:53 PM
राज्यपाल ने की अपराध और जीरो टॉलरेन्स पर  मुख्यमंत्री नीतीश की सराहना, कहा- मेरे बयान की सही तरीके से हो व्याख्या

 पटना। राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने रविवार को अपराध और भ्रष्टाचार के मुद्दे पर मुख्यमंत्री द्वारा अपनायी जा रही जीरो टॉलरेंस नीति की सराहना की। साथ ही पिछले दिनों एक कार्यक्रम में दिये गये अपने वक्तव्य पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि मेरे बयान की सही तरीके से व्याख्या हो। पिछले चार-पांच दिनों में मेरे बयान का काफी दुरुपयोग हुआ। मेरा इरादा पैरेलल पुलिस हेडक्वार्टर खोलने का नहीं था। मालूम हो कि पिछले दिनों पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ द्वारा श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में आयोजित छात्र संवाद कार्यक्रम में उन्होंने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा था कि आपके साथ यदि कहीं ज्यादती हो और सुनवाई न हो रही हो, तो आप राजभवन फोन कर सकती हैं। उक्त बातें राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने रविवार को पटना स्थित ज्ञान भवन में आयोजित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी के सातवें दीक्षांत समारोह में कहीं।

 
उन्होंने कहा कि हमारे पास सरकार है, जिसके मुखिया नीतीश कुमार हैं। मुझे इस बात की खुशी है कि हमारे मुख्यमंत्री ऐसे हैं, जो अपराध और भ्रष्टाचार के मामले में जीरो टॉलरेन्स की नीति रखते हैं। उन्होंने कानून-व्यवस्था को सुधारा है। मैं पटना पुलिस का भी प्रशंसक हूं। अपना स्पष्टीकरण देते हुए उन्होंने कहा कि चीन में एक कहावत है, जब लोग चांद की तरफ ऊंगली उठा कर कहते हैं, वो देखो चांद, तो कुछ लोग चांद नहीं देखते हैं, ऊंगली को देखते हैं. हमारे वक्तव्य के मामले में भी ऐसा ही हुआ और लोगों ने ऊंगली देखी, चांद को नहीं देखा. मैं उस बात को आप सभी के माध्यम से स्पष्ट करना चाहता हूं।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS