ब्रेकिंग न्यूज़
बदमाशों ने रंगदारी नहीं देने पर घर में की हवाई फायरिंग, बाइक सहित चार कारतूस जब्तमोतिहारी के रघुनाथपुर पुलिस ने तीन फराय अभियुक्तों के घर पर इश्तेहार सटवायामोतिहारी में 8 संदिग्ध युवक गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- झपटमार गिरोह के हैं सदस्यपूर्व केन्द्रीय राधा मोहन सिंह ने पृथ्वी दिवस के अवसर पर बापू पौध शाला का उद्घाटन कियासंजय दत्त को हो रही है सांस लेने में समस्या, लीलावती अस्पताल में भर्तीनेपाल: बीरगंज के नारायणी अस्पताल में हुए पिसिआर परिक्षण में 141 लोग कोरोना संक्रमित पाये गयेमुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वाल्मीकिनगर से बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा कियाडंकन अस्पताल रक्सौल में कोविड-19 का जाँच और उपचार शुरु
राष्ट्रीय
नागरिकता संशोधन अधिनियम नागरिकता देने के लिए है: प्रधानमंत्री मोदी
By Deshwani | Publish Date: 13/1/2020 12:15:15 PM
नागरिकता संशोधन अधिनियम नागरिकता देने के लिए है: प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने नागरिकता संशोधन कानून की तगड़ी वकालत करते हुए आज कहा कि इससे उपजे विवाद ने यह साबित कर दिया है कि पाकिस्‍तान में अल्‍पसंख्‍यकों की  धार्मिक प्रताड़ना से  दुनिया अवगत है। उन्‍होंने नागरिकता संशोधन कानून पर युवाओं के एक तब‍के को गुमराह किये जाने की आलोचना करते हुए कहा कि इसका उद्देश्‍य किसी की नागरिकता लेना नहीं बल्कि नागरिकता देना है। 

  
 
श्री मोदी स्‍वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर पश्चिमी बंगाल में राम कृष्‍ण मिशन के मुख्‍यालय बेलूर मठ में एक सभा को सम्‍बोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने साफ किया कि देश के पूर्वोत्‍तर हिस्‍से में इस कानून का कोई बुरा प्रभाव नहीं होगा। उन्‍होंने कहा कि नागरिकता कानून में संशोधन करने से नागरिकता देने का क्षेत्र बढ़ाया गया है। उन्‍होंने स्‍वामी विवेकानंद के सपनों के नए भारत का निर्माण करने में युवाओं से सहयोग करने का आह्वान भी किया।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS