ब्रेकिंग न्यूज़
समस्तीपुर डीएम ने कहा- जो भी दुकान व मॉल में संचालक व कर्मी बिना मास्क के पाए गए तो उस दुकान व मॉल को सील कर दिया जायेगावीरगंज पुलिस ने भारी मात्रा में नशीली दवा के साथ दो भारतीय व एक नेपाली नागरिक को किया गिरफ्तारमोतिहारी के बंजरिया में पुलिस द्वारा सील मकान से ट्रक पर लादे जा रहे बिजली विभाग से चोरी के तार के साथ वाहन मालिक सहित 7 गिरफ्ताररामगढ़वा मे 13 वर्षीय नाबालिग से घर बुला कर जबरन किया दुष्कर्म, चार नामजदसमस्तीपुर : लद्दाख में शहीद अमन की विधवा को मिली नौकरी, डीएम ने दिया नियुक्ति पत्रसमस्तीपुर : समस्तीपुर में कोरोना से युवा व्यवसायी की मौत, छह लोगों की हो चुकी है अबतक मौतमोतिहारी की छतौनी पुलिस ने लकड़ी लदे ट्रक में छुपाकर रखी भारी मात्रा में शराब जब्त की, 6 गिरफ्तार, झखिया में देनी थी डिलेवरीमोतिहारी के कल्याणपुर में पूर्व प्रमुख के पति की रड व चाकू से गोदकर हत्या, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रकाश अस्थाना के छोटे भाई जेपी अस्थाना भी गंभीर घायल
झारखंड
मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य केंद्र में तीन नवजात की मौत, परिजनों ने मचाया हंगामा
By Deshwani | Publish Date: 21/5/2019 4:19:05 PM
मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य केंद्र में तीन नवजात की मौत, परिजनों ने मचाया हंगामा

गिरिडीह। गिरिडीह के मुफ्फस्सिल थाना क्षेत्र के चैताडीह स्थित मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य इकाई में आज सुबह तीन नवजात की मौत हो गई। परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगाम किया है। डॉक्टरों के साथ धक्का-मुक्की और नर्सों के साथ मारपीट भी की गई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों को शांत कराया और मामले की जांच करने का आश्वासन दिया है।

 
पुलिस के मुताबिक मुफ्फस्सिल थाना क्षेत्र के कैलिबाद निवासी राधा देवी पत्नी सुधीर, ठाकुर नगर थाना के बाभनटोली निवासी नेहा देवी पत्नी शशि राम और गांडेय थाना अंतर्गत मंडरो की नीलम कुमारी पत्नी उमेश कुमार प्रसव के लिए मातृत्व शिशु स्वास्थ्य इकाई में भर्ती हुई थी। दो दिन पूर्व ही तीनों महिलाओं ने शिशुओं को जन्म दिया था। नवजातों की तबीयत न जाने कैसे बिगड़ने लगी। डॉ गोबिंद प्रसाद ने तीनों शिशुओं को इंजेक्शन लगाया। इसके बाद तीनों बच्चों की हालत और बिगड़ गई और चंद घंटे बाद ही तीनों नवजात की मौत हो गई। घटना से आक्रोशित परिजन अस्पताल में हंगामा करने लगे। 
 
नर्सों के साथ भी मारपीट की गई है। किसी ने मामले की सूचना पचंबा थाना प्रभारी शर्मानंद सिंह को दी तो वे पुलिस बल के साथ अस्पताल पहुंचे और जैसे-तैसे मामले को शांत कराया। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS