ब्रेकिंग न्यूज़
अंतरराष्ट्रीय योग दिवसः योग के रंग में रंगी रांची, प्रधानमंत्री मोदी कल 50 हजार लोगों के साथ करेंगे योगजमुई में राजद नेता की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिसशेयर बाजार: फ़ेडरल रिजर्व ने दिया भविष्य में ब्याज दर कटौती का संकेत, सेंसेक्स 489 अंक उछलाप्रशासन की अपील के बावजूद अस्पताल में नेता-अभिनेताओं के दौरे, शरद 30 लोगों के साथ पहुंचेरोशन फैमिली के सपॉर्ट में आई सुजैन, कहा- मैं रिक्वेस्ट करूंगी कि ऐसे मुश्किल वक्त में परिवार का सम्मान करेंतेंदुलकर ने ट्वीट कर कहा- धवन के दर्द को महसूस कर सकता हूं, पंत को दी शुभकामनाएंएएन-32 विमान हादसा: सभी 13 वायु सैनिकों के शव बरामदसुनील पांडेय के भाइयों के ठिकानों पर एनआईए का छापा, करीबियों पर भी कसा शिकंजा
झारखंड
अग्रवाल बंधु मर्डर केस: मुख्य आरोपी लोकेश चौधरी का बॉडीगार्ड गिरफ्तार
By Deshwani | Publish Date: 16/3/2019 3:21:56 PM
अग्रवाल बंधु मर्डर केस: मुख्य आरोपी लोकेश चौधरी का बॉडीगार्ड गिरफ्तार

रांची। रांची के अशोक नगर डबल मर्डर केस में पुलिस ने मुख्य आरोपी लोकेश चौधरी के बॉडीगार्ड सुनील सिंह उर्फ सुनील कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। उसे बोकारो थर्मल के बीटीपीएस थाना क्षेत्र के डीवीसी कॉलोनी से गिरफ्तार किया गया है।

 
पूछताछ के दौरान बॉडीगार्ड ने अग्रवाल बंधुओं (महेंद्र अग्रवाल व हेमंत अग्रवाल) की हत्या के मामले में कई खुलासे किये हैं। पुलिस के मुताबिक, बॉडीगार्ड ने बताया कि पूरा मामला सिर्फ 5 लाख रुपये का नहीं, उससे कहीं ज्यादा का है।
 
पुलिस ने बॉडीगार्ड की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त पिस्टल और 19 जिंदा कारतूस भी बरामद कर लिए हैं। इतना ही नहीं, सीसीटीवी के जले हुए डीवीआर को भी पुलिस ने रांची के धुर्वा थाना इलाके से बरामद किया है।
 
एसएसपी अनीश गुप्ता के मुताबिक, साक्ष्य छिपाने के लिए हत्यारों ने मृतकों के मोबाइल ले लिये। घटना के बाद आरोपी बॉडीगार्ड सुनील कोलकाता भाग गया। एसएसपी ने कहा कि सुनील ने बताया कि वह घटना के वक्त मौका-ए-वारदात पर मौजूद था।
 
सुनील ने पुलिस को बताया है कि निजी चैनल के संचालक लोकेश चौधरी ने व्यवसायी बंधु महेंद्र अग्रवाल व हेमंत अग्रवाल के 25 लाख रुपये हड़पने की योजना बनायी थी़ इसलिए दोनों की हत्या हुई।
 
सुनील ने पुलिस को बताया कि वारदात को अंजाम देने के पहले लोकेश ने उसका रिवॉल्वर लेकर उसे कमरे से बाहर निकाल दिया। उसके कमरे से बाहर जाने के बाद अंदर में लोकेश, फर्जी आइबी अफसर मेधावी कल्पतरु सिंह (एमके सिंह), धर्मेंद्र तिवारी और दोनों व्यवसायी बंधु रह गये थे। उसी दौरान दोनों की हत्या कर दी गयी। एसएसपी ने कहा कि सुनील सिंह को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जायेगी़। उसका नार्को टेस्ट व पॉलीग्राफी टेस्ट भी कराया जायेगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS